कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के साथ लखनऊ के आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर सेल्फी लेने वाली महिला (women policemen  took selfie with Priyanka Gandhi) पुलिसकर्मियों की मुश्किलें बढ़ गई हैं।  क्योंकि लखनऊ पुलिस के आयुक्त (Commissioner of Lucknow Police)  ने इसके लिए जांच बैठा दी है।  क्योंकि पुलिस कमीशनर का कहना है कि ड्यूटी के दौरान इस तरह के कार्य अनुशासनहीनता की श्रेणी में आते हैं।  

दरअसल कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) को बुधवार को एक्सप्रेस-वे पर बिना अनुमति के आगरा जाने से रोक दिया गया था।  इस दौरान वहां पर कुछ महिला सिपाहियों और उपनिरीक्षकों ने उनके साथ सेल्फी लेना शुरू कर दिया। 

प्रियंका के साथ सेल्फी लेनी की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए।  इसके बाद लखनऊ के पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर (Lucknow Police Commissioner DK Thakur) ने डीसीपी मध्य ख्याती गर्ग को मामले की जांच के आदेश दिए हैं।  उधर पुलिस आयुक्त डीके ठाकुर का कहना है कि ड्यूटी छोड़ना और सेल्फी लेना गंभीर मामला है और ये अनुशासनहीनता की श्रेणी में आता है। लिहाजा माना जा रहा है कि इस मामले में आरोपी पुलिसकर्मियों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। 

वहीं पुलिस आयुक्त का कहना है कि वायरल फोटो में दिख रहे पुलिसकर्मियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी। क्योंकि महिला पुलिसकर्मियों ने ड्यूटी के दौरान आगरा एक्सप्रेस वे पर प्रियंका गांधी के (women policemen took this selfie with Priyanka Gandhi)  साथ यह सेल्फी ली थी।  क्योंकि उस वक्त महिला पुलिसकर्मी ड्यूटी पर तैनात थी और प्रियंका के काफिले को आगे जाने से रोका जा रहा था।  जबकि इसी दौरान कुछ महिला पुलिसकर्मी प्रियंका के साथ सेल्फी लेने में व्यस्त दिखी

 असल में आगरा में एक सफाई कर्मी की थाने में मौत के मामले में प्रियंका गांधी आगरा जा रही थी।  प्रियंका गांधी को वहां जाने से रोकने के लिए एक्सप्रेस-वे पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया था।  इसमें महिला पुलिसकर्मी भी शामिल थी।