रोहतक में एक नाबालिग लड़के के स्कूटी चलाने और गाड़ी के दस्तावेज नहीं देने पर पुलिस के चालान काटने पर महिला भाजपा नेता इतनी नाराज हो गई कि जाट भवन के पास अर्बन एस्टेट में धरना देने बैठ गईं। 

इसके बाद पुलिस ने हंगामा करने और थाने में धरना देने के चलते भाजपा नेता के खिलाफ केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। 

पुलिस के मुताबिक, वाहनों की जांच के दौरान एक नाबालिग लड़का स्कूटी लेकर नाके पर आया। उससे वाहन के दस्तावेज मांगे तो उसने इनकार कर दिया। इस पर उसका चालान कर दिया।

करीब आधे घंटे बाद एक महिला खुद को भाजपा नेता पूनम बताते हुए वहां आई। तैश में महिला ने अपनी स्विफ्ट गाड़ी का जोर से दरवाजा खोला जिससे सरकारी गाड़ी का साइड इंडिकेटर टूट गया। उसे आराम से समझाया, मगर वह नहीं मानी।

महिला ने भाजपा नेता होने की धौंस दिखाते हुए पुलिस से गाली गलौच की। उसने कहा कि चालान पुलिस खुद अपनी जेब से भरे और वाहन घर छोड़ कर आए। मेरी ऊपर तक पहुंच है। चालान करने वाले को सस्पेंड करा कर ही दम लूंगी। बाद में वह थाने पहुंच गई।

थाने पर पहुंच महिला नेता ने वहां भी हाई वोल्टेज ड्रामा किया और धरने पर बैठ गई। इसके चलते पुलिस ने सरकारी काम में बाधा उत्पन्न करने, हंगामा करने व अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

बीजेपी डिस्ट्रीक्ट प्रेसिडेंट अजय बंसल ने बताया कि पूनम बूरा पार्टी में प्रवक्ता पद पर रही है। अब जिला कार्यकारिणी में है। उन्होंने यह भी कहा कि सभी पार्टी कार्यकर्ताओं को कानून का पालन करना चाहिए क्योंकि सभी के लिए कानून एक बराबर है।