अमरीका में भारतीयों के साथ नस्लीय घृणा के मामले बढ़ते जा रहे हैं। ताजा मामला न्यूयॉर्क में सामने आया है जहां भारतीय मूल की एक सिख युवती पर नस्लीय टिप्पणियां की गई हैं। जानकारी के अनुसार इस युवती पर एक अमरीकी नागरिक ने टिप्पणी की- तुम इस देश की नहीं हो। तुम्हारा इससे कोई संबंध नहीं है।

यही नहीं उस अमरीकी नागरिक ने युवती को लेबनान लौट जाने के लिए कहा। युवती का नाम राजप्रीत एयर है। स्थानीय मीडिया के मुताबिक टिप्पणी करने वाले अमरीकी नागरिक को लगा कि राजप्रीत मध्य-पूर्व एशिया से अमरीका आई हैं।

न्यूयॉर्क टाइम्स में छपी खबर के अनुसार, राजप्रीत अपनी किसी मित्र के जन्मदिन की पार्टी में शामिल होने जा रही थीं। ट्रेन में अमरीकी नागरिक उन्हें देख चिल्लाने लगा और उन पर नस्लीय भेदभाव से संबंधित टिप्पणियां करने लगा।

राजप्रीत ने इस घटना से संबंधित एक वीडियो अखबार की वेबसाइट पर अपलोड किया था। उन्होंने बताया कि सफर के दौरान वे फोन में व्यस्त थीं। तभी एक अमरीकी नागरिक उन पर चीखने लगा। उसने कहा- क्या तुम जानती भी हो कि मरीन कैसे दिखते हैं? क्या तुम्हें अंदाजा भी है कि उन्हें क्या कुछ देखना पड़ता है? वे इस देश के लिए क्या करते हैं? ये सब तुम जैसे लोगों की वजह से होता है।

उसने राजप्रीत के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल करते हुए वापस लेबनान लौट जाने की नसीहत दी। इस मामले में राजप्रीत कहती हैं कि यह ऐसी नस्लीय घृणा है जो हिंसा में बदल सकती है। हालांकि सफर के दौरान दो यात्री उनकी मदद के लिए आगे भी आए। गौरतलब है कि अमरीका में डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद एशियाई मूल के लोगों पर नस्लीय हमले बढ़ रहे हैं।