मौसम (weather) एक बार फिर करवट ले सकता है. राष्ट्रीय राजधानी (National capital) समेत कई राज्यों में आज झमाझम बारिश देखने को मिल सकती है. मौसम विभाग (Meteorological Department) के अनुसार, दिल्ली, ओडिशा, यूपी सहित कई राज्यों में हल्की बारिश का अनुमान है. बारिश का ये दौर सोमवार तक जारी रह सकता है. बारिश के बाद इन राज्यों में तापमान में गिरावट आ सकती है. मतलब जल्द ही सर्दियों का (winter season is going to knock soon) मौसम दस्तक देने वाला है.

मौसम में ये बदलाव बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) में बने एक सिस्टम के चलते देखने को मिल रहा है. पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी और आसपास के क्षेत्रों में बुधवार के चक्रवाती सर्कुलेशन के चलते, उस स्थान पर एक कम दबाव का क्षेत्र बन गया है. सिस्टम के पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और दक्षिण ओडिशा-उत्तर आंध्र प्रदेश के तटों तक पहुंचने की संभावना है. हालांकि कम दबाव का क्षेत्र चक्रवात ( cyclone)  में परिवर्तित नहीं होगा.

मौसम विभाग ने शुक्रवार को बताया कि दिल्ली में न्यूनतम तापमान 18.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है जो मौसम के सामान्य तापमान से एक डिग्री सेल्सियस कम है. वहीं अधिकतम तापमान 34.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. आईएमडी के मुताबिक, शनिवार को आसमान में बादल छाए रहेंगे और हल्की बारिश या बूंदाबांदी होने की संभावना है. साथ ही, न्यूनतम तापमान 20 डिग्री और अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है.

आंध्र प्रदेश के उत्तरी तटीय इलाकों में भी हल्की से मध्यम स्तर की बारिश हो सकती है. हालांकि कुछ स्थानों पर भारी बारिश का अनुमान है, क्योंकि बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र अब उत्तर आंध्र प्रदेश - दक्षिण ओडिशा के अपटतीय क्षेत्र की ओर बढ़ रहा है. इस दौरान तेज हवाएं चलने की भी संभावना है.

मौसम विभाग (Meteorological Department) के मुताबिक, कम दबाव के क्षेत्र के कारण, श्रीकाकुलम, विजयनगरम, विशाखात्तनम, पूर्व गोदावरी जिलों के एक या दो स्थानों पर आज भारी से अत्याधिक भारी बारिश की संभावना है. 16 अक्टूबर को पूर्व गोदावरी और विशाखापत्तनम जिलों में एक या दो स्थानों पर मूसलाधार वर्षा का अनुमान है. आंध्र प्रदेश के उत्तरी तट के करीब बंगाल की खाड़ी के पश्चिम मध्य के ऊपर 40-50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं.