स्पाइसजेट के कर्मचारियों का एक धड़ा दिल्ली (SpiceJet employees went on strike at the Delhi airport) हवाईअड्डे पर हड़ताल पर चला गया. ये कर्मचारी वेतन कटौती और अनियमित वितरण को लेकर एयरलाइंस (Employees are angry with the airlines over salary cuts and irregular distribution) से नाराज चल रहे हैं. हालांकि, स्पाइसजेट के चेयरपर्सन व प्रबंध निदेशक अजय सिंह ( SpiceJet's chairperson and managing director Ajay Singh) ने पिछले महीने कहा था कि कर्मचारियों को उनके पूरे वेतन का भुगतान समय पर किया जा रहा है. साथ ही वेतन से जुड़े सभी मुद्दों को सुलझा लिया गया है.

एयरलाइन के विमानन रखरखाव विभाग में (Employees working in the airline's aviation maintenance department went on strike outside Terminal-3 of the Delhi airport) काम करने वाले कर्मचारी सोमवार को दिल्ली हवाईअड्डे के टर्मिनल-3 के बाहर हड़ताल पर बैठ गए. कर्मचारियों ने अपने हाथों में तख्तियां ली हुई थीं. इन पर हमारा बकाया वेतन दो, कोई वेतन नहीं कोई काम नहीं जैसे नारे लिखे हुए थे. एयरलाइन के सुरक्षा विभाग में कार्यरत कर्मचारी भी इसी मुद्दे को लेकर 3 सितंबर 2021 को हड़ताल पर चले गए थे. हालांकि, प्रबंधन के साथ बातचीत के बाद वे उसी दिन काम पर लौट आए थे.

स्पाइसजेट के प्रवक्ता ने कहा कि दिल्ली हवाईअड्डे पर कुछ कर्मचारियों ने वेतन कटौती का मुद्दा उठाया था. अब इसे सुलझा लिया गया है. कर्मचारी काम पर भी लौट आए हैं. प्रवक्ता ने कहा कि स्पाइसजेट की उड़ानों का परिचालन सामान्य तरीके से हो रहा है. वित्त वर्ष 2019-20 में स्पाइसजेट को 934.8 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. वित्त वर्ष 2020-21 में एयरलाइन को 998.3 करोड़ रुपये का घाटा हुआ. यात्रा प्रतिबंध के चलते स्पाइसजेट को घाटा उठाना पड़ा. ऐसे में कंपनी ने 2020 से कर्मचारियों के वेतन में कटौती की. बता दें कि कोरोना संकट (Aviation industry of the country has been badly affected due to the Corona crisis) के कारण देश का विमानन उद्योग बुरी तरह प्रभावित हुआ है.

हाल में स्पाइसजेट ने यात्रियों के लिए नई सुवीधा शुरू की थी. अब यात्री उड़ान के दौरान ही हवाईअड्डे से बाहर जाने के लिए टैक्सी बुक कर सकते हैं. एयरलाइन के इन-फ्लाइट एंटरटेनमेंट प्लेटफॉर्म स्पाइसस्क्रीन का इस्तेमाल करके इस सुविधा का लाभ उठाया जा सकता है. यह नई सेवा सबसे पहले दिल्ली हवाईअड्डे से शुरू की गई. इसके बाद एयरलाइन इसे मुंबई, बेंगलुरु, हैदराबाद, गोवा, चेन्?नई, कोलकाता, अहमदाबाद और पुणे समेत कई प्रमुख हवाईअड्डों पर शुरू करेगी.