क्रूज पर ड्रग्स पार्टी के दौरान पकड़े गए बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान (Bollywood actor Shahrukh Khan) के बेटे आर्यन खान (Aryan Khan) के बचाव में शिवसेना (Shiv Sena) के नेता उतर आए हैं।  आर्यन खान के समर्थन में शिवसेना नेता किशोर तिवारी (Shiv Sena leader Kishore Tiwari) ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।  शिवसेना नेता किशोर तिवारी ने सुप्रीम कोर्ट में आर्यन खान के समर्थन में एक याचिका दायर की है।  इस याचिका में आरोपियों को मौलिक (fundamental rights) अधिकारों का हवाला देते हुए आर्यन को राहत देने की बात कही गई है। 

शिवसेना नेता किशोर तिवारी ने चीफ जस्टिस से इस मामले में स्वतः संज्ञान लेने की मांग की है।  याचिका में कहा गया है कि केस में लगातार आर्यन खान के मौलिक अधिकारों का हनन हो रहा है।  शिवसेना नेता ने अपनी याचिका में आगे लिखा है कि इस ड्रग्स मामले में नॉर्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (Norcotics Control Bureau) की भूमिका की भी जांच होनी चाहिए।  याचिका में इस मामले की न्यायिक जांच कराने की मांग की गई है।  बता दें कि NCB की भूमिका को लेकर महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक भी लगातार सवाल उठा रहे हैं। 

 

शिवसेना नेता ने आरोप लगाते हुए कहा कि मुंबई में एनसीबी की दुर्भावनापूर्ण शैली, दृष्टिकोण और गंदे प्रतिशोध के मामलों की ओर इशारा करना चाहता हूं और इसके अधिकारी पिछले दो वर्षों से चुनिंदा फिल्म सेलिब्रिटी (targeting select film celebrities) और कुछ मॉडलों को निशाना बना रहे हैं। 

बता दें कि शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान फिलहाल क्रूज पर कथित ड्रग्स पार्टी ( alleged drugs party on the cruise) के मामले में मध्य मुंबई की आर्थर रोड जेल में बंद है। एनसीबी टीम ने 2 अक्टूबर की शाम को गोवा जाने वाले कॉर्डेलिया क्रूज पर छापा मारा और कथित तौर पर ड्रग्स को जब्त कर लिया, और बाद में गिरफ्तारियां कीं।  आर्यन खान की जमानत पर 20 अक्टूबर को फैसला होना है।