यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों के लिए दूतावास ने नई एडवाइजरी जारी की है. इसके मुताबिक किसी को भी बिना बताए सीमावर्ती इलाकों में न जाने की सलाह दी गई है. एडवाइजरी में कहा गया है कि बॉर्डर पर जाने से पहले कीव में दूतावास के अधिकारियों से संपर्क करे. इसके लिए हेल्पलाइन नंबर पहले ही जारी कर दिए गए हैं. बता दें कि यूक्रेन पर रूसी हमले का आज तीसरा दिन है. शनिवार रात से ही रूसी सेना ने राजधानी कीव को घेर रखा है

यह भी पढ़े : कुंडली में ये खतरनाक दोष हो सकता है विवाह में देरी, प्रमोशन में बाधा के लिए उत्तरदायी, ऐसे करें निवारण


एडवाइजरी में कहा गया है, बॉर्डर के कई चेक प्वाइंट पर हालात बेहद संवेदनशील है. हमलोग पड़ोसी देशों के दूतावास के संपर्क में हैं और यहां फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने का काम किया जा रहा है. जो लोग बिना बताए बॉर्डर पर पहुंच रहे हैं, उन्हें हमें मदद करने में दिक्कतें आ रही है. इसलिए वहां जाने से पहले हमें जरूर बताएं.

भारतीय दूतावास के मुताबिक यूक्रेन के पश्चिम के शहर थोड़े सुरक्षित हैं. यहां खाने पीने की चीज़ों की दिक्कते नहीं है. साथ ही कहा गया है कि जो लोग जहां हैं वो अगले आदेश तक वहीं रहे. देश के पूर्वी भाग में रहने वाले लोगों को भी अपने घरों में ही रहने के लिए कहा गया है. बता दें कि हंगरी और रोमानिया के जरिए भारतीय नागरिकों को निकाला जा रहा है.

यह भी पढ़े : विजया एकादशी आज : विजया एकादशी पर जरूर करें ये छोटा सा काम, धन- हानि से मिल जाएगा छुटकारा, बरसेगी माता लक्ष्मी की कृपा


बता दें कि यूक्रेन से भारतीय नागरिकों का पहला जत्था सुचावा सीमा चौकी पार करने के बाद शुक्रवार दोपहर रोमानिया पहुंचा. अधिकारियों ने कहा कि और भारतीय नागरिकों के छोटे समूहों में सीमा पार करके रोमानिया पहुंचने की उम्मीद है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा, यूक्रेन से सुचावा सीमा पार बिंदु पार करके भारतीयों का पहला जत्था रोमानिया पहुंच गया है. सुचावा पर हमारा दल अब उन्हें बुखारेस्ट जाने में मदद करेगा जहां से उन्हें भारत लाया जाएगा.