देश भर में एलआईसी के द्वारा लॉंच की गई मय वंदन योजना ( Vaya Vandana Yojana launched by LIC across the country)  की चर्चाएँ हर वर्ग में हैं। जो इन्वेस्ट करना चाहते हैं। ऐसे में हम आपके लिए ला रहे हैं इस योजना का पूरा अपडेट और सही जानकारी। क्योंकि इस योजना को पहले बंद करने का निरण्य किया गया था। लेकिन केंद्रीय कैबिनेट में इसे पास करते हुए इसकी सीमा बढ़ाकर इसमे इन्वेस्ट करने की तिथि मार्च 2023 है।

क्या क्या होगा प्रधानमंत्री वय वंदना योजना ( Vaya Vandana Yojana) में..

1 ये योजना टैक्स बचत योजना नहीं है।

2 यह योजना एक निवेश योजना है।

3 रिटायरमेंट या 60 साल से ऊपर की आयु वाले सभी नागरिक 1500000 रुपए तक का निवेश 31 मार्च 2023 से पहले कर सकते हैं।

4 निवेश के आधार पर नागरिकों को ₹1000 से लेकर ₹9250 प्रति माह की पेंशन प्रदान की जाएगी।

5 इस योजना के माध्यम से मिलने वाले रिटर्न पर मौजूदा कर कानूनों और समय-समय पर लागू की गई कर की दर के अनुसार कर लगाया जाता है।

6 इसके अलावा इस योजना को जीएसटी से छूट प्रदान की गई है।

7 सभी सामान्य बीमा इंश्योरेंस मे टॉम इंश्योरेंस पर 18% जीएसटी लगाया जाता है।

8 लेकिन प्रधानमंत्री वय वंदना योजना पर जीएसटी नहीं लगाया जाता।

9 आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के अंतर्गत इस योजना के अंतर्गत निवेश करने वाले नागरिक द्वारा कटौती का दावा नहीं किया जा सकता।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना न्यूनतम तथा अधिकतम पेंशन राशि

मोड ऑफ पेंशन न्यूनतम पेंशन अधिकतम पेंशन

वार्षिक Rs 12,000 Rs 1,11,000

छमाही Rs 6,000 Rs 55,500

त्रैमासिक Rs 3,000 Rs 27,750

मासिक Rs 1,000 Rs 9,250

इस योजना के अंतर्गत वरिष्ठ नागरिकों को न्यूनतम 12,000 रुपये प्रति वर्ष की पेंशन के लिए 1,56,658 रुपये और 1000 रुपये प्रति माह न्यूनतम पेंशन राशि प्राप्त करने के लिए 1,62,162 रुपये का निवेश करना होगा |

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना योजना के तहत 1000 से लेकर 10 ,000 रूपये तक की पेंशन भी मिलती है | इस PM Vaya Vandana Scheme 2022 के अंतर्गत 10 वश तक 8 % की निश्चित सालाना रिटन्स की गारंटी के साथ पेंशन सुनिश्चित की जाती है |निवेश सीमा बढ़ने से सीनियर सिटिज़न को प्रतिमाह Miximum 10 हज़ार रूपये जबकि Minimum 1000 रूपये पेंशन धनराशि प्रतिमाह मिलने की गारंटी होती है |दरअसल पेंशन के रूप में ब्याज की ही रकम मिलती है |इसका मतलब है अगर आपने 15 लाख रूपये जमा किये है तो वो 8 % की दर से इस पर साल का 1 लाख 20 हज़ार रूपये ब्याज मिलेगा ब्याज की यह रकम मासिक तोर पर 10 – 10 हज़ार रूपये करके हर तिमाही में 30000 -30000 रूपये करके और साल में 2 बार 60000 -60000 रूपये करके या साल में एक बार 120000 रूपये रूपये करके दी जाएगी |