केंद्रशासित प्रदेश लद्दाख के उपराज्यपाल आरके माथुर (RK Mathur, the Lieutenant Governor of the Union Territory of Ladakh) ने महात्मा गांधी के जयंती पर खादी के कपड़े से बने तिंरगे ( Tricolor made of Khadi) का अनावरण किया. यह दुनिया का सबसे बड़ा राष्ट्रीय ध्वज (Largest national flag in the world) है. इस तिरंगे झंड़े को लेह की जनस्कार पहाड़ी पर लगाया गया था. इस ध्वज का अनावरण महात्मा गांधी की 152वीं जयंती (152nd birth anniversary of Mahatma Gandhi) पर किया गया है. दरअसल महात्मा गांधी को खादी का पर्याय माना जाता है.

लद्दाख की राजधानी (Capital of Ladakh) लेह में खादी राष्ट्रीय ध्वज (Khadi National Flag) का अनावरण किया गया है. इस दौरान वायुसेना के हेलीकॉप्टरों ने तिरंगे के सम्मान में फ्लाई पास्ट किया. उद्घाटन समारोह के प्रसारक दूरदर्शन के मुताबिक इसकी लंबाई 225 फीट, चौड़ाई 150 फीट और वजन 1000 किलोग्राम है. इसे बनाने में 4500 मीटर खादी को कपड़े का इस्तेमाल हुआ है.

इस कार्यक्रम में सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे (Army Chief General Manoj Mukund Naravane)  समेत सेना के अन्य शीर्ष अधिकारी इस कार्यक्रम में शामिल हुए. सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे लद्दाख के दो दिवसीय दौरे पर हैं. यहां उन्होंने मौजूदा हालात के बारे में जानकारी ली. इस कार्यक्रम के बाद सेना प्रमुख ने भारत-चीन सीमा (India-China border)  पर गतिरोध की स्थिति को लेकर कहा कि पिछले 6 महीनों स्थिति सामान्य रही है. अक्टूबर के दूसरे सप्ताह में चीन के साथ 13वें दौर की वार्ता होगी. उम्मीद है कि दोनों देशों के बीच आम सहमति बने.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांवाडिया (Union Health Minister Mansukh Manwadia) ने तिरंगे के इस अनावरण पर ट्वीट किया, 'यह भारतीय ध्वज के लिए बहुत गर्व का क्षण है कि गांधी जी की जयंती पर लेह, लद्दाख में दुनिया के सबसे बड़े खादी तिरंगे (world's largest Khadi tricolor) का अनावरण किया जा है. मैं इस भाव को सलाम करता हूं जो बापू की स्मृति को याद करता है, भारतीय कारीगरों को बढ़ावा देता है और राष्ट्र का सम्मान भी करता है.