मिजोरम का नाम सुनते ही सबसे पहला ख्याल क्या आता है आपके दिमाग में, खूबसूरत नज़ारे, दिलकश वादियां और मिलनसार लोग लेकिन क्या आप जानते हैं मिजोरम का मतलब क्या होता है... नहीं तो चलिए आज बताते हैं हम आपको 

मिजोरम नाम का हर अक्षर है जैसे मि (लोगों), जो  (पहाड़ी) और रम (भूमि) से निकला है, और इस प्रकार मिजोरम का अर्थ है "पहाड़ी लोगों की भूमि"। 

मिजोरम पूर्वोत्तर भारत के  राज्यों में से एक है, जिसकी राजधानी ऐजोल है। पूर्वोत्तर में, यह एक ऐसा राज्य है जो तीन राज्यों त्रिपुरा, असम, मणिपुर से अपना बॉर्डर सांझा करता है. 

भारत के पूर्वोत्तर राज्यों की तरह, मिजोरम 1 9 72 तक असम का हिस्सा था, बाद में इससे केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया था और 20 फरवरी 1 9 87 को यहम  भारत का 23 वां राज्य बना।

मिजोरम चारो ओर से बड़ी बड़ी चट्टानों से घिरा है लेकिन यहां के स्थानीय लोगो में मिजोरम की एक अलग ही कहानी सुनाई देती है. कहते हैं मिजोरम के चरों और जो चटट्नें हैं उन्हें किंवदंती व  चिनलगुंग भी कहा जाता है। 

कहते हैं रताल कबीले के दो लोग, जो बेहद बातूनी थे वो एक बार इन पहाड़ियों से जोर जोर से बात करते हुए गुज़र रहे थे  जिस पर परमेश्वर गुस्से में आ कर उन्हें पहाड़ी से बहार फेंक दिया और चट्टानों से स्वर्ग का दरवाजा बंद कर लिया 

तब से यह बड़े बड़े पहाड़ों से घिरा हुआ है. इस कहानी के पीछे का सच  तो पता नहीं पर ये मिज़ो लोगो में ये कहानियां पीढ़ी दर पीढ़ी बताई और सुनाई जाती है