पैगंबर मोहम्मद पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर भारतीय जनता पार्टी ने अपनी राष्ट्रीय प्रवक्ता नुपूर शर्मा को निलंबित कर दिया है। एक टीवी डेबिट शो में नुपूर शर्मा ने पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी की थी जिसके बाद मामला काफी बढ़ गया। ना केवल मुस्लिम समुदाय बल्कि अरब देशों की ओर से इस पर कठोर प्रतिक्रिया आई और इस टिप्पणी की निंदा की। 

यह भी पढ़े : भारत को आंख दिखाने वाले ये OIC देश अनाज-फलों के लिए हमारे देश पर निर्भर, लेकिन 


बीजेपी ने एक बयान जारी कर कहा था कि ऐसी टिप्पणी पार्टी के मूल विचार के उलट हैं। दूसरी तरफ नुपूर शर्मा ने अपनी माफी मांगी और कहा कि वो अपने शब्द वापस लेती हैं। उनकी मंशा किसी को ठेस पहुंचाने की नहीं थी। अब इस पूरे मामले में कंगना रनौत ने नुपूर शर्मा का बचाव किया है।

यह भी पढ़े : Nirjala ekadashi vrat:  इस बार निर्जला एकादशी व्रत को लेकर कंफ्यूजन, यहां जानिए कौनसी तारीख को रखे व्रत 


‘मामलों के लिए कोर्ट है’

कंगना ने कहा कि नुपूर को मिल रही धमकियां वह देख सकती हैं। उन्होंने कहा जब हिंदू देवी-देवताओं का अपमान हर रोज किया जाता है तो ऐसे मामलों के लिए कोर्ट है। वह कहती हैं देश में एक चुनी हुई सरकार है और यह अफगानिस्तान नहीं है। कंगना ने अपनी बात इंस्टा स्टोरी पर साझा की।

यह भी पढ़े : आज का राशिफल 8 जून: इन राशियों के लोगों को बहुत बचकर पार करना होगा समय, ये लोग करें हरी वस्तु का दान


‘एक चुनी हुई सरकार है’

कंगना कहती हैं, ‘नुपूर अपनी राय रखने की हकदार है। उन्हें मिल रही हर तरह की धमिकयां मुझे दिखाई देती हैं। वे लगभग हर दिन हिंदू देवताओं का अपमान करते हैं तो हम कोर्ट जाते हैं। कृपया डॉन बनने की जरूरत नहीं है। यह अफगानिस्तान नहीं है। हमारे पास एक चलने वाली सरकार है, जिसे लोकतंत्र नामक प्रक्रिया के साथ चुना गया है। जो भूल गए हैं उनके लिए बस एक रिमाइंडर।‘