दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (Delhi Metro Rail Corporation) ने एक और उपलब्धि हासिल करते हुए दिल्ली मेट्रो की 57 किलोमीटर लंबी पिंक लाइन पर ''Driverless train operations' का फैसला किया है। अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि 25 नवंबर को इसका उद्घाटन किया जाएगा।

केंद्रीय आवासन एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) और दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत (elhi Transport Minister Kailash Gehlot) वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से इसका उद्घाटन करेंगे। डीएमआरसी ने बताया कि यह कॉन्फ्रेंस सुबह साढ़े 11 बजे में निर्धारित है।

दिल्ली मेट्रो की मैजेंटा लाइन पर भारत की पहली चालक रहित ट्रेन के परिचालन का उद्घाटन पिछले साल 28 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। उन्होंने कहा था कि उनकी सरकार ने अपने पूर्ववर्तियों के विपरीत, बढ़ते शहरीकरण को एक अवसर के रूप में लिया और मेट्रो ट्रेन सेवाओं को वर्तमान 18 से 2025 तक 25 शहरों में विस्तारित किए जाने पर जोर दिया था।

डीएमआरसी के अधिकारियों ने तब कहा था कि मजलिस पार्क से शिव विहार तक फैली पिंक लाइन पर भी 2021 के मध्य तक चालक रहित परिचालन किया जाएगा। हालांकि, कोविड-19 वैश्विक महामारी ने दिल्ली मेट्रो के परिचालन को बुरी तरह से प्रभावित किया था।

डीएमआरसी का नेटवर्क वर्तमान में 286 स्टेशनों के साथ करीब 392 किलोमीटर तक फैला हुआ है। इसमें नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो कॉरिडोर और रेपिड मेट्रो, गुड़गांव भी शामिल है।