एक  कोई चाहता है की ईश्वर के दर्शन कर अपना जीवन सफल बनाये ऐसे में लोग चार धाम यात्रा करते हैं और प्रसिद्ध मंदिरों के दर्शन को जाते हैं जहां जा कर ना सिर्फ उनके मन को शांति मिलती है बल्कि मन की मनोकामना भी पूरी होती है। लेकिन क्या आप जानते हैं की भारत को भले ही मंदरों और देवी देवताओं का गढ़ खा जाता हो लेकिन यहाँ कई ऐसी जगह भी हैं जहां महिलाओं के जाने पर पूर्णता प्रतिबंध है। 

तो चलिए आज आपको कुछ ऐसे ही मंदिरो के बारे में बताते हैं जहाँ आप जोड़े से नहीं बल्कि अकेले ही पूजा कर पाएंगे क्योंकि यहाँ महिलाओं का आना सख्त माना  है। 

1 मुक्तागिरी जैन मंदिर (मध्यप्रदेश)

यह मंदिर मध्यप्रदेश के गुना शहर में है जो यहां का प्रमुख तीर्थ स्थल है। इस मंदिर में महिलाएं जा तो सकती हैं लेकिन वैस्टर्न कपड़े पहन कर जाने पर मनाही है। चाहे छोटी उम्र की लड़की हो या बड़ी, इस मंदिर में सभी को पारंपरिक कपड़े ही पहन कर जाना पड़ता है।

2. कार्तिकेय मंदिर (राजस्थान)

राजस्थान के पुष्कर शहर में ब्रह्माजी का एकमात्र मंदिर यही है जो यहां का सबसे पुराना और खूबसूरत मंदिर है। इस मंदिर में भी महिलाएं नहीं जा सकती।

3.सबरीमला श्री अयप्पा (केरल)

इसे केरल के सबसे पुराने और भव्य मंदिरों में गिना जाता है। सबरीमला श्री अयप्पा मंदिर में सिर्फ भारतीय ही नहीं बल्कि विदेशों से भी श्रद्धालु आते हैं लेकिन इस मंदिर के अंदर 10 से 50 साल की उम्र तक की महिलाएं नहीं जा सकती। 

4. केरल के तिरुअनंतपुरम शहर में एक मंदिर है जहां महिलाओं का प्रवेश नहीं हो सकता। विष्णु भगवान का यह मंदिर केरल का प्रमुख पर्यटक स्थल है।