चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी की छात्राओं के अश्लील वीडियो लीक होने की वजह से बवाल मचा हुआ है। यहां पर हॉस्टल की ही एक लड़की ने दूसरी छात्राओं के नहाते हुए वीडियो बनाए और उन्हें वायरल कर दिए। हालांकि, पुलिस का कहना है कि लड़की ने केवल अपना वीडियो ही शेयर किया है। इस मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय SIT का गठन किया गया है। 

ये भी पढ़ेंः Maruti Suzuki Festive Offer, सस्ते में कार खरीदने का तगड़ा मौका

पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराएं

अब सवाल ये है कि अगर इस तरह का कोई वीडियो लीक हो जाता है और उसे किसी पॉर्न वेबसाइट पर अपलोड कर दिया जाता है तो क्या इसे वहां से हटाने का कोई रास्ता है? जी हां, कुछ ऐसे तरीके हैं जिन्हें फॉलो करके आप पॉर्न वेबसाइट साइट या सोशल मीडिया वेबसाइट पर अपलोड वीडियो या फोटो को डिलीट करवा सकते हैं। इसके लिए सबसे अच्छा ऑप्शन है कि आप लोकल पुलिस स्टेशन में जाकर इसकी शिकायत दर्ज कराएं। हालांकि, इसमें काफी ज्यादा समय लग सकता है।

वेबसाइट के ओनर करें से शिकायत

आप वेबसाइट के ओनर को कॉन्टैक्ट करके वीडियो को डिलीट करने के लिए कह सकते हैं। ज्यादातर वेबसाइट कॉपीराइट पॉलिसी को फॉलो करती हैं। इसके चलते वो इस तरह की पोस्ट को तुरंत हटा देती हैं। क्या होगा अगर आप वेबसाइट के ओनर से संपर्क नहीं कर पाएं तो? अब आपको कुछ दूसरे तरीके अपनाने होंगे।

ये है ओनर कॉन्टै्कट निकालने का तरीका

आपको किसी थर्ड पार्टी के पास जाना होगा। इसके लिए आपको वेबसाइट www.whois.com से मदद मिल जाएगी। इसमें किसी भी वेबसाइट के डोमेन नेम को डालने पर उससे जुड़ी पूरी डिटेल्स मिल जाती है। यहां से आप साइट ओनर से कॉन्टैक्ट कर सकते हैं और उससे वीडियो हटवा जा सकता है। मालूम हो कि पॉर्न साइट से वीडियो हटाना ज्यादा आसान होता है। इसके लिए वीडियो के नीचे रिपोर्ट करने का ऑप्शन दिया गया होता है। इसके जरिए आप वीडियो हटाने का कारण बताकर अपना काम करा सकते हैं। 

यह भी पढ़े : Weekly Numerology Horoscope: इन तारीखों में जन्मे लोगों के लिए इस सप्ताह धन- लाभ के प्रबल योग, जानिए

गूगल सर्च रिजल्ट से ऐसे हटवाएं

गूगल सर्च रिजल्ट से भी किसी आपत्तिजनक फोटो या वीडियो को हटवाना बहुत आसान है। इसके लिए आप गूगल से कॉन्टैक्ट कीजिए। इसके लिए आपको https://support.google.com/websearch/troubleshooter/3111061#ts=2889054%2C2889099%2C288910This साइट पर जाएं। इसके जरिए महिलाओं के साइबर क्राइम से जुड़े मामलों में ज्यादा मदद मिल सकती है।