गुजरात ने ओमीक्रोन के बढ़ते मामलों के (Reimposed night curfew in 8 major cities of Gujarat ) बीच सोमवार को राज्य के 8 प्रमुख शहरों में 31 दिसंबर तक नाइट कर्फ्यू फिर से लगा दिया.  रिपोर्ट के मुताबिक अहमदाबाद, राजकोट, सूरत, वडोदरा, जामनगर, भावनगर, गांधीनगर और जूनागढ़ में साल के अंत तक यानी 31 दिसंबर 2021 की रात तक नाइट कर्फ्यू लगाया गया है. नाइट कर्फ्यू की टाइमिंग रात 1 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेगी.

आधी रात तक खुलेंगे रेस्तरां (Restaurants will open till midnight)

बता दें कि गुजरात सरकार ने 1 नवंबर से इन शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाया था. दिवाली और छठ पूजा के बीच और कोरोना के मामलों की संख्या में गिरावट के कारण कर्फ्यू के घंटों में दो घंटे की कमी की गई थी. इसके बाद सरकार ने फिर 1 दिसंबर से 10 दिसंबर तक 10 और दिनों के लिए कर्फ्यू बढ़ा दिया. मौजूदा नाइट कर्फ्यू की पाबंदियों को लेकर बात करें तो इस दौरान, रेस्तरां आधी रात तक 75त्न लोगों के साथ खुले रह सकते हैं. सरकार ने आधी रात तक होम डिलीवरी और टेक-अवे सेवाओं की भी अनुमति दी है.

गुजरात में बढ़े ओमीक्रोन के मामले

सरकार ने नागरिकों से यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया कि कोविड -19 के प्रसार को रोकने के लिए कोविड-19 निवारक उपायों का सख्ती से पालन किया जाए क्योंकि राज्य में ओमीक्रोन के मामले बढ़ रहे हैं. गुजरात में रविवार को कोरोनावायरस के ओमीक्रोन वेरिएंट के चार नए मामले पाए गए, जिससे राज्य में ओमीक्रोन वेरिएंट से संक्रमित लोगों की संख्या 11 हो गई है.

रविवार को जो लोग ओमीक्रोन पॉजिटिव पाए गए उन्होंने हाल फिलहाल में विदेश यात्रा की थी. इनमें एक एक 45 वर्षीय एनआरआई और एक किशोर लड़का शामिल है जो यूके से आया था, इसके अलावा सूरत की एक महिला भी ओमीक्रोन पॉजिटिव पाई गई है जो हाल ही में दुबई गई थी और एक तंजानिया का नागरिक नए वेरिएंट का शिकार पाया गया है.

पूरे देश की बात करें तो सोमवार तक ओमीक्रोन वेरिएंट के कम से कम 170 मामलों सामने आए हैं. केरल, कर्नाटक, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में सोमवार को नए मामले सामने आए. स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने संसद को बताया कि सरकार विशेषज्ञों के साथ रोजाना स्थिति पर नजर रखे हुए है. उन्होंने कहा, अगर वायरस फैलता है तो सरकार ने स्थिति से निपटने के लिए कदम उठाए हैं.