स्मॉल सेविंग्स के लिए पोस्ट ऑफिस के कई ऐसे स्कीम्स हैं, जिससे अच्छी बचत की जा सकती है। इन्हीं स्कीम्स में से एक पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम है। इस स्कीम में अगर आप सही रणनीति के साथ इन्वेस्ट करते हैं तो आप सालाना मोटी बचत कर सकते हैं। आज हम आपको इस स्कीम के तहत बताएंगे कि कैसे 59,400 रुपये की कमाई की जा सकती है। लेकिन, सबसे पहले इस स्कीम के बारे में जान लेते हैं।


पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम एक ऐसी योजना है जिसमें व्यक्गित या ज्वॉइंट अकाउंट खुलवाकर कमाई की जा सकती है। इसके तहत कोई भी भारत का नागरिक 1000 रुपये के शुरूआती निवेश से पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवा सकता है। अगर कोई सिंगल अकाउंट खोलता है तो इसमें अधिकतम निवेश 4.5 लाख करना होता है। ज्वॉइंट अकाउंट के तहत अधिकतम निवेश 9 लाख रुपये कर सकते हैं।


आप अपने बच्चे के नाम से भी अकाउंट खोल सकते हैं। अगर बच्चा 10 साल से कम उम्र का है तो उसके नाम पर उसके माता-पिता या लीगल गार्जियन की ओर से अकाउंट खोला जा सकता है। बच्चे की उम्र 10 साल होने पर वह खुद भी अकाउंट के संचालन का अधिकार पा सकता है। वहीं, एडल्ट होने पर उसे खुद जिम्मेदारी मिल जाती है।


मंथली इन्वेस्टमेंट स्कीम अकाउंट कोई भी खोल सकता है। अगर आप का अकाउंट सिंगल है तो आप इसमें 4.5 लाख रुपए तक अधिकतम जमा कर सकते हैं। इसमें कम से कम 1500 रुपए की राशि जमा की जा सकती है। वहीं अगर आपका अकाउंट ज्वॉइंट है तो इसमें अधिकतम 9 लाख रुपए जमा किए जा सकते हैं। एक शख्‍स एक से ज्यादा लेकिन पोस्ट ऑफिस द्वारा तय लिमिट के अनुसार अकाउंट खोल सकता है।


आप अपनी सुविधा के अनुसार किसी भी पोस्ट ऑफिस में जाकर अकाउंट खुलवा सकते हैं। इसके लिए आपको आधार कार्ड, वोटर आईडी, पैन कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस में से किसी एक की फोटो कॉपी जमा करनी होगी। इसके अलावा एड्रेस प्रूफ जमा करना होगा, जिसमें आपका पहचान पत्र भी काम आ सकता है। इसके अलावा आपको 2 पासपोर्ट साइज के फोटोग्राफ जमा करने होंगे।

पोस्ट ऑफिस की मंथली इनकम स्कीम निवेश के सबसे अच्छे विकल्पों में से एक माना जाता है क्योंकि इसमें 4 बड़े फायदे हैं। इसे कोई भी खोल सकता है और आपकी जमा पूंजी हमेशा बरकरार रहती है। बैंक एफडी या डेट इंस्ट्रूमेंट की तुलना में आपको बेहतर रिटर्न मिलता है। इससे आपको हर महीने एक निश्चित आय होती रहती है और फिर स्कीम पूरी होने पर आपकी पूरी जमा पूंजी मिल जाती है, जिसे आप दोबारा इस योजना में निवेश कर मंथली आय का साधन बनाए रख सकते हैं।


इस स्कीम के तह​त अगर कोई ज्वाइंट अकाउंट खुलवाता है तो उनके लिए अधिकतम निवेश की रकम 9 लाख रुपये होगी। इस 9 लाख रुपये पर सालाना 6.6 फीसदी की ब्याज दर के हिसाब से कुल 59,400 रुपये का रिटर्न मिलेगा। हर महीने इस रकम को लेना चाहते हैं तो यह 4,950 रुपये होगा। खास बात है कि इस रकम के अलावा आपका प्रिंसिपल अमाउंट पूरी तरह से सुरक्षित पड़ा रहेगा। इस स्कीम की मैच्योरिटी 5 साल बाद पूरी हो जाती है, ऐसे में आप चाहें तो 5-5 साल की अवधि के लिए इसे और भी बढ़ा सकते हैं।


अगर किसी जरूरत पर आपको मेच्योरिटी से पहले ही पूरा पैसा निकालना पड़ गया तो यह सुविधा आपको अकाउंट के 1 साल पूरा होने पर मिल जाती है। अकाउंट खोलने की तारीख से 1 साल से 3 साल तक जमा रकम में से 2 फीसदी काटकर बाकी रकम आपको वापस मिलती है। 3 साल से ज्यादा पुराना अकाउंट होने पर, उसमें जमा रकम में से 1 फीसदी काटकर बाकी रकम आपको वापस मिलती है।