बेंगलुरु। नए डेटा स्टोरेज समाधान विकसित करने के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की डिजिटल सेवा इकाई जियो प्लेटफॉम्र्स लिमिटेड और इंडियन फाइल स्टोरेज एवं शेयरिंग प्लेटफॉर्म डिजिबॉक्स ने साझेदारी की। इससे जियो के मौजूदा और भावी उपभोक्ताओं की क्लाउड स्टोरेज सर्विस की जरूरतें पूरी हो सकेंगी। एक संयुक्त बयान में मंगलवार को बताया गया कि इस साझेदारी से हाल ही में पेश किए गए 20 जीबी के स्टोरेज स्पेस के अलावा उपभोक्ता को जियो फोटोज ऐप के माध्यम से पंजीकरण करने पर डिजिबॉक्स पर 10 जीबी का अतिरिक्त स्पेस मिलेगा। 

ये भी पढ़ेंः उद्धव सरकार की कल होगी अग्नि परीक्षा, राज्यपाल ने दिए फ्लोर टेस्ट के निर्देश, बागी गुट ने किए मां कामाख्या के दर्शन


रजिस्टर्ड यूजर्स यहां सुरक्षित फोल्डर बना सकते हैं, फोटो अपलोड कर अपने स्मार्टफोन से तुरंत फोटो और वीडियो शेयर कर सकते हैं और अलग-अलग प्रकार की फाइलों को एक ही जगह पर रख सकते हैं। जियो सेट-टॉप बॉक्स के यूजर्स अपने डिजिबॉक्स अकाउंट को जियो फोटोज ऐप से जोड़ सकते हैं, जो हर जियो सेट-टॉप बॉक्स पर पहले से ही लोड होता है, जिससे वह अपनी फोटो और वीडियो को अपलोड और देख सकते हैं। डिजिबॉक्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अर्णव मित्रा ने कहा, ''हम जियो प्लेटफॉम्र्स के साथ अपनी नई साझेदारी से बेहद उत्साहित हैं। 

ये भी पढ़ेंः Assam flood update: पोहुमारा नदी की बाढ़ बर्बाद मंजर को देख छलके मुख्यमंत्री हिमंता के आंसू

यह साझेदारी हमें डिजिटल रूप से सक्रिय नए उपभोक्ताओं को हमारी मालिकाना टेक्नोलॉजी प्रदान करने में मदद करेगी। जियो के उपभोक्ताओं को इससे काफी फायदा होगा। जियो और डिजिबॉक्स दोनों कंपनियों से जुड़ी अलग-अलग प्रतिभाएं भारत में क्लाउड स्टोरेज और उपयोगिता को बदलने के समान लक्ष्य से एक साथ आई हैं।' जियो के मुख्य कार्यकारी अधिकारी किरण थॉमस ने कहा, 'भारत में बने स्टोरेज प्लेटफॉर्म डिजिबॉक्स के साथ साझेदारी करके हम बेहद उत्साहित हैं। हमारा मानना है कि उनकी ये पेशकशें सुरक्षित, तेज, सहज और विश्व स्तर के हैं। ये एकीकरण उन सभी जियो यूजर्स को बेमिसाल अनुभव प्रदान करेंगे, जो अतिरिक्त स्टोरेज समाधानों की तलाश कर रहे हैं। अब अधिक स्पेस आसानी से हासिल किया जा सकता है।'