कन्नौज के मशहूर इत्र कारोबारी (Famous perfume trader of Kannauj)  और समाजवादी पार्टी के एमएलसी पुष्पराज जैन उर्फ पंपी जैन (Pushpraj Jain alias Pumpi Jain) को आयकर विभाग ने हिरासत में ले लिया है. आयकर विभाग ( Income Tax Department ) की टीम सपा एमएलसी को अपने साथ कन्नौज से कानपुर ले गई है. इसके साथ ही टीम अपने साथ कई बैग में दस्तावेज़ भी ले जाती दिखी.

सपा एमएलसी पुष्पराज उर्फ पंपी जैन (Pushpraj alias Pumpi Jain)  के घर पर पिछले 72 घंटों से भी अधिक समय से आयकर विभाग की छापेमारी चल रही थी. सुबह आयकर विभाग के कुछ अधिकारी और आधा दर्जन पुलिसकर्मी पंपी जैन के घर पहुंचे थे. इसके बाद सुबह 9 बजे के करीब यह टीम पुष्पराज जैन (Pushpraj alias Pumpi Jain) को अपने साथ ले जाती दिखी. खबर है कि कन्नौज में जैन के घर और फैक्ट्री पर अब भी पुलिसकर्मी मौजूद हैं.

 

पुष्पराज जैन (Pushpraj Jain) को 2016 में इटावा-फर्रुखाबाद से एमएलसी के रूप में चुना गया था. वह प्रगति अरोमा ऑयल डिस्टिलर्स प्राइवेट लिमिटेड के सह-मालिक हैं. हाल के दिनों में यूपी की सियासत में चर्चा बटोर रही समाजवादी इत्र इन्हीं की कंपनी ने बनाई थी. उनके इस बिजनेस की शुरुआत उनके पिता सवैललाल जैन ने 1950 में ने शुरू की थी.

पुष्पराज (Pushpraj Jain) और उनके तीन भाई कन्नौज में व्यवसाय चलाते हैं और एक ही घर में रहते हैं. एमएलसी पुष्पराज (Pushpraj Jain) का मुंबई में एक घर और एक कार्यालय है, जहां से मुख्य रूप से मध्य पूर्व में लगभग 12 देशों को निर्यात का सौदा होता है. उनके तीन भाइयों में से दो मुंबई ऑफिस में काम करते हैं, जबकि तीसरा उनके साथ कन्नौज में मैन्युफैक्चरिंग सेट-अप पर काम करता है.