दुनियाभर में Bitcoin और Dogecoin समेत छोटी-बड़ी क्रिप्टोकरेंसी (cryptocurrencies में निवेश को लेकर लोगों में काफी उत्साह है. भारत में भी बड़ी संख्या में लोग क्रिप्टोकरेंसी में पैसे लगा रहे हैं. ऐसे में इस साल फोर्ब्स की सबसे अमीर अमेरिकी लोगों की जारी सूची में क्रिप्टो इंडस्ट्री के 7 उद्यमियों और अरबपतियों ने जगह बना ली है. इन 7 अमीर क्रिप्टो अरबपतियों में 3 काफी युवा हैं.

युवा क्रिप्टो अरबपतियों में सैम बैंकमैन फ्राइड की उम्र महज 29 साल, ब्रायन आर्मस्ट्रांग की 38 साल और फ्रेड एहरसम की आयु सिर्फ 33 साल है. क्रिप्टोकरेंसी के कारण अरबपति बने 7 लोगों के पास कुल 55 अरब डॉलर की संपत्ति है. आइए इन 7 क्रिप्टो अरबपतियों के बारे में जानते हैं.

सैम बैंकमैन-फ्राइड ने शुरू किया एफटीएक्स

क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज एफटीएक्स के फाउंडर और सीईओ सैम बैंकमैन-फ्राइड क्रिप्टो इंडस्ट्री की ओर से फोर्ब्स की सूची में शामिल होने वाले सबसे अमीर अरबपति हैं. सैम बैंकमैन-फ्राइड की कुल संपत्ति 22.5 अरब डॉलर है. उनकी ज्यादातर संपत्ति एफटीएक्स के शेयरों और टोकन में है.

क्वाइनबेस के फाउंडर हैं आर्मस्ट्रांग

आर्मस्ट्रांग अमेरिका के सबसे बड़े क्रिप्टो एक्सचेंज क्वाइनबेस के सीईओ और सह-संस्थापक हैं. अप्रैल 2021 में क्वाइनबेस के सूचीबद्ध होने के बाद से उनकी संपत्ति लगातार बढ़ रही है. अब उनकी कुल संपत्ति 11.5 अरब डॉलर पर पहुंच गई है. आर्मस्ट्रांग के पास कंपनी में 19 फीसदी हिस्?सेदारी है.

रिपल के चेयरमैन भी सूची में शामिल

क्रिप्टो पेमेंट प्रोटोकॉल रिपल के चेयरमैन और को-फाउंडर क्रिस लार्सन की सपंत्ति पिछले साल 2.7 अरब डॉलर थी. इस साल ये बढ़कर 6 अरब डॉलर हो गई है. लार्सन अकेले क्रिप्टो अरबपति हैं, जो पिछले साल भी फोर्ब्स की सबसे अमीर अमेरिकी लोगों की सूची में शामिल थे.

जुड़वां भाइयों ने शुरू किया जेमिनी

जुड़वां भाइयों कैमरून और टायलर विंकलेवोस ने क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज जेमिनी के संस्थापक हैं. दोनों के पास कुल 4.3 अरब डॉलर की संपत्ति है.

एहरसैम कर रहे पैराडाइम का नेतृत्व

एहरसैम ने ब्रायन आर्मस्ट्रांग के साथ मिलकर 2012 में क्वाइनबेस को शुरू किया था. वह 2017 में इस एक्सचेंज से अलग हो गए. अब वह क्रिप्टो आधारित इनवेस्टमेंट फर्म पैराडाइम की अगुआई करते हैं. उनकी अनुमानित संपत्ति 3.5 अरब डॉलर है.

सबसे पहले ब्लॉकचेन में जेड ने रखा कदम

ब्लॉकचेन इंडस्ट्री में सबसे पहले कदम रखने वालों में शामिल जेड मैककेलेब ने रिपल, स्टेलर और एमटी जीओएक्स लॉन्च करने में मदद की थी. मैककलेब की अनुमानित संपत्ति 3 अरब डॉलर है. उनकी सपंत्ति का अधिकतर हिस्सा रिपल के को-फाउंडर के तौर पर उनकी हिस्सेदारी से आई है.