हर किसी के जीवन में एक सुनहरा समय होता है। यह समय होता है सगाई और शादी के बीच। जब हम अपने पुराने समय को छोडऩे और नये आने वाले समय के बीच के पल को इंजाय करते हैं। लेकिन कभी-कभी इन सुनहरे दिनों में हमारे मुंह से कोई ऐसी बात निकल जाती हैं। जिसकी वजह से हमको सारी जिंदगी शर्मिदा या परेशान होना पड़ता हैं।

इसलिए इन दिनों में पार्टनर से जो भी बात कहें वो काफी सोच-समझ कर करें। खासतौर पर अंरेज मैरिज करने वालों को होती हैं। कुछ ऐसी बातें है जिनको अपनाकर हम नये जीवन में प्रवेश करते समय होने वाली गलितयों से बच सकते हैं। 

कभी-कभी यह देखा गया है कि जब शादी होने वाली होती है तो हम सारी दुनियां को भूलकर सिर्फ अपने होने वाले पति या पार्टनर में ही गुम हो जाते हैं। ऐसे में यह कोशिश करें कि अपने घरवाले और दोस्तों के साथ वैसा ही व्यवहार बनाए रखें। जैसा आप सगाई से पूर्व करते थे। 

शादी से पहले पार्टनर या होने वाले पति के साथ मानसिक रूप से तो साथ रहें। लेकिन कोशिश करें कि आप शारीरिक रूप से अटेैच ना हों। साथ ही सोशल मीडिया पर शादी से पहले इन रिलेशनशिप का खुलासा ना करें। 

अगर आपकी अरेंज मैरेज होने वाली तो अपने होने वाले पति को को अपने घर के सदस्यों के निजी जीवन की अधिक जानकारी भूलकर भी ना दें। केवल उससे अपने व अपनी शादी के बारें में चर्चा करें। 

कभी भी शादी से पहले अपने पति या पार्टनर के साथ अपने भूतकाल की बात ना करें। क्योंकि आप एक नई जिदंगी शुरू करने जा रहे हैं। इसमें पुरानी बातों का कोई स्थान नहीं होना चाहिए। 

अपने होने वाले पति से ज्यादा उम्मीदें न रखें यह आपके लिए बेहतर होगा। अपनी तरफ अच्छा करने की कोशिश करें और आपस में दोनों एक दूसरें का सम्मान करें इससे आने वाला पल बेहतरीन होगा।