अगर आप भी हमारी तरह इस सर्दी दिल्ली के आसपास कुछ बर्फीली जगह देख रहे हैं, तो आपको किसी से पूछने की जरूरत नहीं है, क्योंकि जवाब आपको यही मिलेगा। हम चाहे कितने भी बड़े हो जाए, कुछ चीजों में हमेशा बच्चे के बच्चे ही रहते हैं, फिर उसमें बर्फ से खेलना और उस बर्फ से स्नोमैन बनाना या रोमांचकारी खेलों में शामिल होना ही क्यों न हो। यहां हम आपको दिल्ली से कुछ मिलोमीटर उन जगहों की जानकारी देने वाले हैं जहां बर्फ सबसे ज्यादा देखी जाती है।

मनाली और रोहतांग दर्रा 

यहां के टॉप कैफे और एडवेंचर स्पोर्ट्स यहां की असली सुंदरता को बढ़ाने में मदद करते हैं, इस वजह से भी यह आपके परिवार और दोस्तों के साथ छुट्टियां मनाने के लिए एक परफेक्ट स्थान बन जाता है। बर्फीले वंडरलैंड होने के कारण, मनाली इस सर्दी में बर्फबारी के लिए दिल्ली के पास घूमने के लिए लोकप्रिय स्थानों में से एक है। यहां आप पैराग्लाइडिंग कर सकते हैं, स्नो स्कूटर चला सकते हैं, वैसे दोस्तों के साथ इस तरह की एक्टिविटी करने का मजा ही अलग है। दिल्ली और मनाली के बीच की दूरी 538 किलोमीटर है और मनाली और रोहतांग दर्रे के बीच की दूरी 51 किलोमीटर है। साफ नीले आसमान के सामने झुके हुए इसके ढ़लानीय पहाड़ इस शहर को मौसम के दौरान बेहद खूबसूरत बना देते हैं। 

कनाताल, मसूरी, धनोल्टी

ये जगह भी सर्दियों में जाने के लिए एकदम परफेक्ट है जहां आप अपने दोस्तों या परिवार वालों के साथ बर्फबारी देख सकते हैं और बर्फ में ढेरों मस्ती कर सकते हैं। दिल्ली और कनाताल के बीच की दूरी 320 किलोमीटर, कनाताल और मसूरी के बीच की दूरी 48 किलोमीटर और मसूरी और धनोल्टी के बीच की दूरी 58 किलोमीटर है। कनाताल, मसूरी और धनोल्टी ये सभी दिल्ली के पास बर्फबारी के साथ एक बेहद ही खूबसूरत हिल स्टेशन हैं, जिन्हें आसानी से एक लॉन्ग रोड ट्रिप के दौरान कवर किया जा सकता है। इन जगहों का शांत वातावरण आपको मंत्रमुग्ध कर देगा और आपको किसी और ही पलों में डुबाने पर मजबूर कर देगा। 

नरकंडा

अगर आपने शिमला की बर्फ देखली हो तो एक बार यहां भी जरूर जाए। दिल्ली और नारकंडा के बीच की दूरी 402.3 किलोमीटर है। शिमला से लगभग 60 किलोमीटर की दूरी पर स्थित, नारकंडा एक छोटा सा शहर है जो दिल्ली से सबसे नज़दीकी हिमपात क्षेत्र में से एक है, जो बर्फबारी के दौरान कहानी की किताब से ली गई एक सुंदर तस्वीर की तरह दिखाई देने लगता है। इसके कुछ आकर्षण और अनुभवों की वजह से पर्यटकों को बेहद आकर्षित किया है। 

औली 

एक छोटा शहर होने के बावजूद, औली अपने प्रसिद्ध बर्फ से ढके पहाड़ों के लिए हर साल कई पर्यटकों को आकर्षित करता है। दिल्ली और औली के बीच की दूरी 520 किलोमीटर है। अगर स्कीइंग करके आपकी आत्मा को बेहद शांति मिलती है, तो आपको भारत के सबसे खूबसूरत हिल स्टेशन औली जरूर जाना चाहिए। यह जगह दिल्ली से सबसे नज़दीकी बर्फ़ वाली जगह में से एक है, जो हर तरह के यात्रियों के लिए सपनों का देश बन जाती है और बर्फबारी के दौरान तो ये जगह स्वर्ग जैसी लगने। 

चोपता, तुंगनाथ, देवरियाताल 

तुंगनाथ से, कुछ लोग चोपता के लिए अपनी यात्रा शुरू करते हैं, जबकि अन्य देवरियाताल जाते हैं, जो एक और दर्शनीय स्थल है। पूरे गांव में बर्फ की चादरें इस जगह को एक वंडरलैंड में बदल देती हैं, जहां आपको जरूर जाना चाहिए। दिल्ली और चोपता के बीच की दूरी 408 किलोमीटर, चोपता और तुंगनाथ के बीच की दूरी 74 किलोमीटर, तुंगनाथ और देवरियाताल के बीच की दूरी 22 किलोमीटर है। इस लिस्ट में आप एक ऑफबीट जगहों की भी तलाश में हैं, जिसके बारे में आपने कभी न सुना होगा और न कभी गए हो? तो हम आपके लिए लेकर आए हैं उत्तराखंड के एक छोटे सा गाँव चोपता, जहां आप खूबसूरत नजारों को बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं कर सकते। यही वजह है कि चोपता की गिनती दिल्ली के पास सबसे अच्छे बर्फबारी वाले इलाकों में होती है। इसके अलावा, चूंकि चोपता तुंगनाथ ट्रेक के लिए एक बेस कैम्प के रूप में कार्य करता है, जहां कई हाइकर्स और ट्रेकर्स यहां आराम करने और अगले दिन से अपना ट्रेक शुरू करने के लिए आते हैं। 

लंढौर, नाग टिब्बा 

ये स्थान दिल्ली से सिर्फ 8 घंटे की ड्राइव पर हैं जो दिसंबर, जनवरी, फरवरी और यहां तक कि मार्च के महीनों में विंटर वंडरलैंड में बदल जाते हैं। इन जगहों पर भी देखने के लिए बहुत कुछ है, और यही वजह है कि पर्यटक यहां बार-बार आते हैं। आप नाग टिब्बा तक ट्रैकिंग करने के लिए भी निकल सकते हैं। दिल्ली से अगला निकटतम हिमपात क्षेत्र लंढौर और नाग टिब्बा है जो फिर से उत्तराखंड में स्थित है। दिल्ली और लंढौर के बीच की दूरी 294 किलोमीटर, लंढौर और नाग टिब्बा के बीच की दूरी 82 किलोमीटर है।

शिमला 

शिमला में यूनीक रेस्टोरेंट हैं जहां आप गर्म-गर्म चाय, मैगी और स्वादिष्ट खाने का मजा ले सकते हैं। दिल्ली और शिमला के बीच की दूरी 342 किलोमीटर और शिमला और कुफरी के बीच की दूरी 17 किलोमीटर है। पिछले कुछ वर्षों से, अगर कोई जगह है जो दिल्ली के पास बर्फबारी को निहारने के लिए बहुत लोकप्रिय हो गई है, तो हम कहेंगे वो शिमला और कुफरी है। एक ही मार्ग के किनारे स्थित, ये दोनों स्थान बर्फ की चादर से ढक जाते हैं और स्कीइंग और आइस-स्केटिंग के लिए आकर्षण के केंद्र बन जाते हैं।