खाने पीने के शौकीन लोग जायके के लिए दूर-दर तक चले जाते हैं। आज तक आपने मजेदार खाने का लुत्फ उठाने के लिए एक शहर से दूसरे शहर का सफर किया होगा, लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे रेलवे स्टेशन के बारे में जहां आप बेहद स्वादिष्ट खाने का मजा ले सकते हैं। अगर आपको इन रेलवे स्टेशन पर जाने का मौका मिलेगा तो यहां खाने का लुत्फ लेना बिल्कुल मत भूलिएगा।



जालंधर स्टेशन के छोले भटूरे
पंजाब के तंदूरी पराठे, चिकन और लस्सी के बिना वहां की ट्रिप ही अधूरा है, लेकिन एक बार आपने जालंधर स्टेशन के छोले भटूरे का टेस्ट ले लिया तो अगली बार से आपकी लिस्ट में ये भी शामिल होंगे। अब जब भी पंजाब जाएं तो जालंधर के छोले भटूरे टेस्ट करना न भूलें।हावड़ा स्टेशन का चिकन कटलेट
हावड़ा स्टेशन कोलकाता में पड़ता है। अगर आपका जाना इस तरफ होता है तो और आप नॉनवेज के शौकीन हैं तो यहां के मशहूर चिकन कटलेट खाना बिल्कुल ना भूलें।अजमेर स्टेशन पर कढ़ी कचौरी
यूं तो राजस्थान का फेवरेट नाश्ता है, कढ़ी कचौरी। लेकिन अजमेर स्टेशन जाने का मौका मिले तो वहां की कढ़ी कचौरी को जरूर टेस्ट करें। अगर आपने पहले से इसका स्वाद लिया है तो आपको इसका टेस्ट अच्छे से मालूम होगा, लेकिन अगर आप पहली पर इसे खा रहे हैं तो पक्का आप जब भी दोबारा जाएंगे तो इसे टेस्ट करने से खुद को नहीं रोक पाएंगे।टूंडला स्टेशन की आलू टिक्की
अगर आप दिल्ली से कानपुर का सफर कर रहे हैं तो इस बीच टूंडला स्टेशन पड़ता है। यहां की टिक्की आपने एक बार टेस्ट कर ली तो आप खुद कहेंगे कि आपने आज तक ऐसी टिक्की नहीं खाई है। अगली बार अगर टूंडला स्टेशन रास्ते में पड़े तो टिक्की खाना न भूलिएगा।रतलाम स्टेशन पर कांदा पोहा
पोहा खाना ज्यादातर सभी लोगों को पसंद होता है, लेकिन अगर किसी को पोहा खाना नहीं पसंद तो वो एक बार रतलाम स्टेशन का कांदा पोहा जरूर चखें। आपको पक्का पोहा अच्छा लगने लगेगा। आबूरोड़ स्टेशन की रबड़ी
रबड़ी अमूमन सभी का फेवरेट मिष्ठान में से एक होता है। अगर आपने एक बार राजस्थान के आबूरोड़ स्टेशन की ठंडी और मोटी रबड़ी का मजा ले लिया तो शायद ही फिर आपको कहीं और की रबड़ी पसंद आए। गुवाहाटी रेलवे स्टेशन पर लाल साह
भारत में चाय का सबसे ज्यादा उत्पादन असम में होता है। यहां की चाय को सबसे अच्छा माना जाता है। यहां आपको कई तरह की चाय मिलेंगी। दूर दूर से लोग यहां के टी गार्डन्स को देखने आते हैं। इसी के साथ यहां आए पर्यटकों की पहली पसंद लाल साह है। ये बिना दूध के चीनी के साथ बनाई जाती है। कर्जत स्टेशन का वड़ा पाव
महाराष्ट्र के वड़ा पाव के चर्चे दुनियाभर में हैं। अगर आप महाराष्ट्र यात्रा के लिए निकले हैं और ऐसे में स्टेशन पर वड़ा पाव देख नजर फेर लिया तो समझिए पाप कर लिया। वड़ा पाव के साथ अगर आपको जीने की चटनी मिल गई तो समझिए दिन बन गया। कर्जत स्टेशन पर से निकलें तो वड़ा पाव लेने से खुद को न रोकिएगा।