मई के महीने में आप अपने घर के बरामदे में ठंडी-ठंडी हवा का लुत्फ उठा रहे हैं। अपने बरामदे से सूर्यास्त का नज़ारा देख रहे हों। सपनों की दुनिया से बाहर निकलिए और देखिए ये शहर कितना गर्म है। उमस से भरा हुआ ये शहर आपकी सपनों से भरी मई को हकीकत में नहीं बदलने देगा। मर्इ का महीना शुरू हो गया है आैर इसी के साथ उमस आैर बेताहाशा गर्मी की भी शुरूआत हो चुकी है। एेसे में अगर ठंड का लुत्फ उठाना चाहते हैं तो पूर्वोत्तर के इन जगहों की सैर जरूर किजिए जो आपकी मर्इ की बेहद सुनहरी बना देंगे। उमस भरी गर्मी से राहत आैर सपनों की दुनिया की सैर करवा देंगी ये जगह। तो इस मर्इ के महीने में इन शहरों में से एक का लुत्फ ज़रूर उठाइए...

 

शिलांग

शिलांग, चेरापुंजी, मेघालय यहां के खूबसूरत पर्वत को देखने का अपना ही मज़ा है। शिलांग अपने आप में बेहद खूबसूरत जगह है। यहां अलग-अलग त्योहार और परंपराएं भी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं। शिलांग में  ज्यादातर महिलाएं आपको अपना खुद का व्यापार करते दिख जाएंगी।ये जगह हमेशा शांत, ठंडी और खूबसूरत है। यहां का ठंडा वातावर इसे की खूबसूरत बनाता है।


चेरापूंजी

शिलांग से चेरापुंजी जाते हुए आपको कई गुफाओं के नज़ारे देखने को मिलेंगे। चेरापुंजी एशिया की सबसे साफ जगह में से एक है। इसलिए भी इसकी खूबसूरती देखते ही बनती है।

तवांग

अरुणाचल प्रदेश  10,000 की ऊंचाई पर बसा ये शहर अरुणाचल प्रदेश की शान है. यहां बहुत सी घाटी, झरने और नदियां हैं। तवांग के झीले और झरने इस उमस भरी मई से आपको भरपूर राहत दे सकते हैं।

गंगटोक

सिक्किम सिक्किम की राजधानी भारत की एक खूबसूरत जगह है। यहां की झीले इसकी खूबसूरती में चार-चांद लगाती हैं। मई के महीने में गंगटोक शहर आपको खास राहत दे सकता है। यहां पर स्थित कंचनजंगा विश्व की तीसरी सबसे ऊँची चोटी है।