ऋषिकेश। अक्षय तृतीया के रोज चारधाम यात्रा का शुभारंभ होने जा रहा है। यात्रा के प्रमुख संचालन केंद्र ऋषिकेश में यात्रा से संबंधित सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। यात्रा शुभारंभ होने से 48 घंटा पहले ऋषिकेश में कई प्रांतों से बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे। ऋषिकेश स्थित पंजीकरण केंद्र में दोपहर 12:00 बजे तक 650 श्रद्धालु अपना पंजीकरण करा चुके हैं।

तीन मई अक्षय तृतीया के दिन यमुनोत्री और गंगोत्री धाम के कपाट विधिवत पूजा अर्चना के साथ खुल जाएंगे। एक रोज पूर्व सोमवार को ऋषिकेश से यात्रियों का जत्था यात्रा के लिए रवाना होगा। सभी यात्रियों के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन पंजीकरण की व्यवस्था की गई है।

यह भी पढ़े : IPL 2022 में मुंबई इंडियंस को मिली पहली जीत, ईशान किशन ने कहा- यह समय एक-दूसरे के साथ खड़े रहने का है

यात्रा शुभारंभ होने से 48 घंटा पूर्व यात्रा संचालन केंद्र बस टर्मिनल कंपाउंड में जम्मू, राजस्थान, नेपाल आदि क्षेत्र से बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे। यह सभी लोग यहां पंजीकरण करा रहे हैं। इस वर्ष पंजीकरण कराने वाली एथिक्स इन्फोटेक कंपनी की ओर से कर्मचारियों के जरिए पंजीकरण की व्यवस्था की गई है।

इसके अतिरिक्त यात्री स्वयं अपना पंजीकरण करा सकते हैं। उसके लिए आठ कियोक्स की व्यवस्था की गई है। कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर प्रेम अनन्त ने बताया कि रविवार दोपहर 12:00 बजे तक 650 श्रद्धालु अपना पंजीकरण करा चुके हैं। चारधाम यात्रा पर जाने वाले 3,56,148 श्रद्धालुओं ने रविवार दोपहर 12:00 बजे तक अपना पंजीकरण कराया है।

यह भी पढ़े : Monthly Horoscope May 2022: ग्रहों का उलटफरे इन राशिवालों को आर्थिक लाभ दिलाएगा, इन राशियों के लिए जोखिम भरा रहेगा ये महीना


उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद की ओर से पंजीकरण के लिए वेबसाइट एचटीटीपी://रेजिस्ट्रेशनएंड टूरिस्टकेअरडॉटयूकेडॉट जीओवीडॉटइन जारी की गई है। अब तक यमुनोत्री के लिए 59,395, गंगोत्री के लिए 61,403, केदारनाथ के लिए 1,28,696, बदरीनाथ के लिए 1,03,692 और श्री हेमकुंड धाम के लिए 2962 यात्रियों ने अपना पंजीकरण कराया है।

उधर, परिवहन विभाग की ओर से यात्रा मार्ग पर रविवार से चेक पोस्ट खोल दी गई है। सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी प्रशासन अरविंद कुमार पांडेय ने बताया कि गंगोत्री हाइवे पर भद्रकाली और बदरीनाथ हाईवे पर ब्रम्हपुरी में चैक पोस्ट स्थापित कर वहां अधिकारियों और कर्मचारियों की तैनाती कर दी गई है। रविवार से ही अन्य प्रांत से आने वाले वाहनों के लिए ग्रीन कार्ड सुविधा उपलब्ध करा दी गई है।