भारतीय रेलवे ने सोमनाथ रेलवे स्टेशन को नया और भव्य स्वरूप देने का काम शुरू कर दिया है। गुजरात स्थित 12 ज्योतिर्लिंगों में से प्रथम श्री सोमनाथ महादेव मंदिर की वैश्विकता को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने सोमनाथ रेलवे स्टेशन को गुजरात की समृद्ध संस्कृति-सभ्यता से जोड़ने का प्रयास किया है। इसकी जानकारी भारतीय रेलवे ने सोशल मीडिया पर दी है। 

यह भी पढ़े : राशिफल 20 जुलाई: आज इन राशि वालों के शत्रु भी मित्र बनने की करेंगे कोशिश, ये लोग सूर्यदेव को जल अर्पित करें 


रेल मंत्रालय ने स्वदेशी सोशल मीडिया मंच कू ऐप पर अपने आधिकारिक हैंडल से सोमनाथ रेलवे स्टेशन का प्रस्तावित डिजाइन शेयर किया है। मंत्रालय ने अपनी पोस्ट में लिखा, "श्री सोमनाथ ज्योतिर्लिंग मंदिर से प्रेरित होकर, पुनर्विकसित होने वाले सोमनाथ रेलवे स्टेशन का प्रस्तावित डिजाइन परंपरा, संस्कृति और आधुनिकता का समावेश प्रदर्शित करता है।" बता दें कि इस प्रोजेक्ट की अनुमानित लागत करीब 134 करोड़ रुपये है।  

भक्तों के सबसे पवित्र तीर्थ स्थलों में से एक सोमनाथ मंदिर में, सालभर देश-विदेश से पर्यटक भगवान शिव के दर्शन करने के लिए आते रहते हैं। ऐसे में रेलवे स्टेशन अपग्रेड होने पर यहां आने वाले यात्रियों व भक्तों को बेहतर सुविधाएं मिल सकेंगी। जानकारी के मुताबिक रेलवे ने रिनोवेशन के अंतर्गत स्टेशन में अलग-अलग आगमन व प्रस्थान के लिए लाउंज बनाने का काम शुरू कर दिया है। जबकि मंदिर की पौराणिक विरासत को प्रदर्शित करने के लिए विशेष भवन बनाया जाएगा। इसके अलावा भविष्य में सोमनाथ मंदिर के स्टेशन को जीएसआरटीसी बस स्टैंड से भी जोड़ने की योजना पर कार्य किया जा रहा है।

वहीं, सावन के पहले सोमवार के बाद आज सुबह सोमनाथ ज्योतिर्लिंग के आधिकारिक कू अकाउंट से महादेव के भव्य प्रातः श्रृंगार की तस्वीर शेयर की गई। इसमें बाबा के विशाल स्वरूप को दर्शाया गया है। गौरतलब है कि ऊर्जा बचत के लिए ग्रीन बिल्डिंग कॉन्सेप्ट को अपनाकर स्टेशन को अपग्रेड किया जाएगा। इस अपग्रेड को 2 साल में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।