पहले ठेले पर फिर नाव से अस्पताल पहुंची गर्भवती महिला, मुख्यमंत्री के क्षेत्र में है ये हाल

Daily news network Posted: 2019-10-23 08:50:58 IST Updated: 2019-10-23 08:50:58 IST
पहले ठेले पर फिर नाव से अस्पताल पहुंची गर्भवती महिला, मुख्यमंत्री के क्षेत्र में है ये हाल
  • असम की एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जो सरकार के विकास के दावों की पोल खोल रही है। ये तस्वीर कहीं और की नहीं बल्कि असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के विधानसभा क्षेत्र माजुली की है।

असम की एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जो सरकार के विकास के दावों की पोल खोल रही है। ये तस्वीर कहीं और की नहीं बल्कि असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के विधानसभा क्षेत्र माजुली की है। जहां एक गर्भवती महिला को घोड़ा गाड़ी पर अस्पताल ले जाया गया, यहां तक कि नाव का भी इस्तेमाल करना पड़ा। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल भी हो रहा है।


 

मामला माजुली विधानसभा के भेकली चापोरी इलाके की रहने वाली गर्भवती महिला का है जहां उसके परिजनों ने 8 किलोमीटर तक घोड़ा गाड़ी खींच कर, उसके बाद फिर उसे एक नाव से नदी पार करके सरकारी अस्पताल पहुंचाया। इस घटना ने एक बार फिर माजुली में सड़क संपर्क और स्वास्थ्य सुविधाओं की दयनीय स्थिति को उजागर कर दिया है।


 

बता दें कि सड़कों की बुरी स्थिति के कारण कोई भी एम्बुलेंस उस क्षेत्र में नहीं जा सकती है, जहां की गर्भवती महिला है। इस मामले में स्थानीय निवासियों का कहना है कि हमारे क्षेत्रों में सड़कों की कनेक्टविटी का बुरा हाल है। अगर किसी को अस्पताल ले जाना हो तो घोड़ा गाड़ी, ठेले का इस्तेमाल करना पड़ता है साथ ही नदी भी पार करनी पड़ती है।


 

उनका कहना है कि हम अपील करना चाहते हैं कि मुख्यमंत्री इस मामले में देखें और एक्शन लें। गौर हो कि इस क्षेत्र से पहले भी इस तरह के मामले सामने आ चुके हैं, जो सरकारी तंत्र पर सवाल खड़ा करते हैं।