टूटा असम की आस्था दास का सपना, नहीं बन पाई 'सारेगामापा लिटिल चैंप्स' की विनर

Daily news network Posted: 2019-06-10 13:44:37 IST Updated: 2019-06-10 17:57:02 IST
  • असम की आस्था दास का Zee TV पर प्रसारित होने वाले टीवी रियलिटी शो सा रे गा मा पा लिटिल चैंप्स के ग्रैंड फिनाले जीतने का सपना टूट गया। आस्था ने 34वें एपीशोड में चार्टबस्टर परफॉर्मेंस दिया था। जिसमें उन्हें 100 फीसदी अंक भी मिले थे। लेकिन रविवार को 35वें एपिशोड (ग्रैंड फिनाले) में वो जीत नहीं सकी।

असम की आस्था दास का Zee TV पर प्रसारित होने वाले टीवी रियलिटी शो सा रे गा मा पा लिटिल चैंप्स के ग्रैंड फिनाले जीतने का सपना टूट गया। आस्था ने 34वें एपीशोड में चार्टबस्टर परफॉर्मेंस दिया था। जिसमें उन्हें 100 फीसदी अंक भी मिले थे। लेकिन रविवार को 35वें एपिशोड (ग्रैंड फिनाले) में वो जीत नहीं सकी। 'सारेगामापा' लिटिल चैंप्स 2019 का खिताब नागपुर की सुगंधा दाते ने अपने नाम कर लिया। इनाम में सुगंधा को ट्रॉफी और 5 लाख रुपए मिले। इस शो के फर्स्ट रनर अप प्रीतम अचार्य और दूसरे रनर अप मोहम्मद फैज रहे। आपको बता दें कि सुगंधा, प्रीतम और मोहम्मद के अलावा 'सारेगामापा' लिटिल चैंप्स 2019 फाइनलिस्ट थें अस्था दास, आयूस केसी और अनुष्का पात्रा।


 'सा रे गा मा पा' की ट्रोफी अपने घर ले जाने वाली सुगंधा की तुलना अक्सर श्रेया घोषाल से की जाती थी। सुगंधा इससे पहले सुगंधा इंडियन आइडल जूनियर में आई थीं, लेकिन टॉप 5 में अपनी जगह नहीं बना पाई थीं। रिपोर्ट्स की मानें तो सुगंधा 6 साल की उम्र से गाना सीख रही हैं।

 


 खिताब जीतने के बाद सुगंधा ने कहा- मैं पांच साल पहले जब इंडियन आइडल जूनियर में आई थी, तब टॉप पांच तक ही पहुंच पाई थी। उस शो के बाद मम्मी-पापा ने तय किया था कि मेरे करियर के लिए वह मुंबई में ट्रांसफर लेंगे। मुझे क्लासिकल संगीत सिखाने के लिए उन्होंने आंनद सर से संपर्क किया। आनंद सर इंडियन आइडल में म्यूजिकल कोच थे। सारेगामापा पर भी वह कोच थे। इस पूरे सफर के दौरान मेरी कोशिश यही थी कि मैं अपने माता-पिता और सर को गौरवांवित कराऊं।' सुंगधा 6 साल की उम्र से गाना गा रही हैं। अपने सफर को लेकर वह कहती हैं, 'मेरी मम्मी ने संगीत में एमए किया है। शुरुआत में वह मुझे गाना सिखाया करती थीं।


 वहीं बात करें आस्था दास की तो इन्होंने जी टीवी के इस शो के ग्रैंड फिनाले में पहुंचने वाले 6 कंटेस्टेंट्स में जगह बनाई थी। असम की रहने वाली आस्था 10वीं कक्षा की छात्रा हैं तथा गुवाहाटी के नेरेंगी स्थित आर्मी पब्लिक स्कूल में पढ़ती हैं। आ​स्था को अपनी सुरीली आवाज के लिए जाना जाता है। अपने इसी टैलेंट के दम पर वो इस शो के जजों और दर्शकों की चहेती बन गई। सुरीली आवाज की धनी आस्था इस ग्रैंड फिनाले के आखिरी राउंड में विजेता की तगड़ी दावेदार मानी जा रही थी।



कई शो में ले चुकी हैं हिस्सा

 जन्मजात टैंलेट की धनी आस्था, गौतम दास तथा छाया दास की बेटी है और कई फेमस टीवी शो में हिस्सा ले चुकी हैं। इससे पहले वे Voice Kids 2017 के बैटल राउंड में भी भाग ले चुकी है। इसके अलाव वो Colors TV के Rising Star 2017 शो तथा Sony TV show Indian Idol में भी हिस्सा ले चुकी हैं।



इंडियन क्लासिकल म्यूजिक में डिग्री के साथ आस्था के पास अपने सपनों का पीछा करने और हासिल करने की क्षमता है। अब यह उपलब्धि हासिल होने के साथ, आस्था अपने राज्य और क्षेत्र को और लोकप्रिय कर देंगी। असम की नवोदित प्रतिभाएं इतनी बड़ी लोकप्रियता और मान्यता के साथ राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्लेटफार्मों पर आगे बढ़ रही हैं।


 बता दें कि ये पहली प्रतिभा नहीं है जो असम को गौरवान्वित कर रही हैं। इनसे पहले भी कई युवा टैलेंट नेशनल टेलिविजन पर अपने प्रतिभा का लोहा मनवा चुके हैं। बात करें असम के पिछले कुछ सालों में उभरे प्रतिभा की तो असम की प्रोनिता स्वारगियरी पिछले साल रियलिटी शो इंडिया गॉट टैलेंट में सेलेक्ट हुई थी। साल 2015 में डांस रिएलिटी सो डीआईडी के पांचवे सीजन में प्रोनिता स्वारगियरी विनर रहीं थी। वर्तमान में सोनी टीवी पर प्रसारित होने वाले डांस रियलिटी शो 'सुपर डांसर चैप्टर 3' में असम के गुवाहाटी की रहने वाली 7 साल की जयश्री गोगोई शानदार परफॉर्मेंस दे रही हैं। जयश्री सीजन 2 में सिलेक्ट हुई थी, लेकिन ज्यादा आगे नहीं जा पाईं थी। इसके अलावा इस साल फरवरी में स्टार प्लस पर प्रसारित होने वाला टीवी रियलिटी शो 'डांस प्लस 4' के ग्रैंड फिनाले में असम की आंचल रनरअप रही थी। पूरे सीजन में आंचल ने अपने धमाकेदार परफॉर्मेंस से देशभर में काफी लोकप्रिय हो गई हैं। इसके अलावा असम के वीर राधा शेरपा ने टीवी रियलिटी शो डांस प्लस का सीजन तीन अपने नाम कर लिया था।