इस गढ़ के भीतर अचानक गायब हो गई पूरी बारात, सच्चाई जानकर रह जाएंगे दंग

Daily news network Posted: 2019-07-13 15:35:35 IST Updated: 2019-07-13 15:35:35 IST
इस गढ़ के भीतर अचानक गायब हो गई पूरी बारात, सच्चाई जानकर रह जाएंगे दंग
  • आज हम आपको एक ऐसे किले के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप दंग रह जाएंगे। दरअसल, हम जिस किले की बात कर रहे है वो भारत में भी मौजूद गढ़कुंडार का किला है जो उत्तर प्रदेश के झांसी से करीब 70 किलोमीटर की दूरी परमौजूद है।

आज हम आपको एक ऐसे किले के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप दंग रह जाएंगे। दरअसल, हम जिस किले की बात कर रहे है वो भारत में भी मौजूद गढ़कुंडार का किला है जो उत्तर प्रदेश के झांसी से करीब 70 किलोमीटर की दूरी परमौजूद है।


 बता दें कि, 11वीं सदी में तैयार ये किला पांच इमारत का है, जिसमें तीन इमारत तो ऊपर हैं, जबकि दो मंजिल जमीन के नीचे हैं। हालांकि, ये किला कब तैयार हुआ एवं किसने निर्माणकरवाया, इसके सम्बन्ध में कोई जानकारी नहीं है, लेकिनकहा जाता है कि यह गढ़ 1500 से 2000 वर्ष प्राचीन है।


 यहां चंदेलों, बुंदेलों एवं खंगार जैसे अनेक शासकों का शासन रहा। यह किला सुरक्षा की नजर से तैयार करवाया गया एक ऐसा बेजोड़ नमूना है, जो लोगों को शंकित कर देता है। गढ़ ऐसेतैयार किया गया है कि यह चार-पांच किलोमीटर दूर से तोनजर आता है, किन्तु पास आते-आते यह दिखना बंद हो जाता है।


 सूत्रों के मुताबिक, इस गढ़ की गिनती हिंदुस्तान के सबसे रहस्यमयी किले में होती है। इर्द-गिर्द के लोग कहते हैं कि काफी वक्त पूर्व यहां पास के ही गांव में एक बारात आई थी।बारात यहां किले में भ्रमण हेतु आई।

 


 भ्रमण करते-करते वो लोग बेसमेंट में चले गए, तत्पश्चात वो रहस्यमयी तरीके से अचानक अदृश्य हो गए। जिनका आज तक पता नहीं चल सका। तत्पश्चात भी कुछ इस तरह की घटनाएं हुई, जिसके बाद गढ़ के नीचे जाने वाले सभी दरवाजों को बंद कर दिया गया।


 गढ़ के भीतर अंधेरा रहने के कारण दिन में भी ये काफी डरावना लगता है। बताया जाता हैं कि गढ़ में एक खजाने का रहस्य भी छुपा हुआ है, जिसे खोजने के चक्कर में अनेक लोगों की जान चली गई है।


 इतिहास के जानकार कहते हैं कि यहां के राजाओं के पास सोने-हीरे, जवाहरातों की कोई कमी नहीं रही। यहां के खजाने को तलाशने का प्रयास अनेक लोगों ने किया, परन्तु वो सफल नहीं हो पाए।