महिला ने पार्सल भेजा पंजाब, लेकिन पहुंच गया चीन

Daily news network Posted: 2019-02-15 21:31:51 IST Updated: 2019-02-15 21:31:51 IST
महिला ने पार्सल भेजा पंजाब, लेकिन पहुंच गया चीन
  • चंडीगढ़ की एक महिला ने फरीदकोट में अपनी मां के लिए ब्लड प्रेशर की दवाइयों को पार्सल किया। लेकिन गांव के नाम को समझने को लेकर हुई गलती से पार्सल चीन की राजधानी पेइचिंग में पहुंच गया।

चंडीगढ़ की एक महिला ने फरीदकोट में अपनी मां के लिए ब्लड प्रेशर की दवाइयों को पार्सल किया। लेकिन गांव के नाम को समझने को लेकर हुई गलती से पार्सल चीन की राजधानी पेइचिंग में पहुंच गया।

 


 मनिमाजरा निवासी बलविंदर कौर की शिकायत पर जिला उपभोक्ता विवाद फोरम ने सेक्टर 17 के पोस्ट ऑफिस से जवाब तलब किया। पोस्ट ऑफिस ने बताया कि अड्रेस में फरीदकोट जिले की जायतो तहसील का चैना (Chaina) गांव का नाम दर्ज था, जिसे गलती से चीन (China) समझ लिया गया।

 


 एनबीटी की रिपोर्ट के अनुसारबलविंदर कौर ने बताया, 'उन्होंने पोस्ट ऑफिस के राजभवन ब्रांच से पार्सल को 18 जनवरी को रजिस्टर्ड पोस्ट से भेजा। पार्सल चंडीगढ़ से दिल्ली गया और वहां से चीन पहुंच गया। 19 जनवरी से 27 जनवरी तक पेइचिंग में रहने का बाद 31 जनवरी को आखिरकार पार्सल मुझ तक पहुंच गया। इसके लिए पोस्ट ऑफिस के अधिकारी जिम्मेदार हैं।'

 


 वहीं पोस्ट ऑफिस के अधिकारियों ने अपनी किसी भी तरह की गलती को मानने से इनकार कर दिया। अधिकारियों के अनुसार कौर ने पार्सल पर दोबारा से Delivery Chaina लिखकर कन्फ्यूज़न पैदा कर दिया। हमारी तरफ से कोई गलती नहीं हुई है। अधिकारियों ने अपने बचाव में कहा कि पोस्ट ऑफिस ऐक्ट के तहत केंद्र सरकार या इसका कोई भी पोस्टल अधिकारी पोस्ट के जरिए होने वाली डिलिवरी की देरी, खो जाने के लिए जिम्मेदार नहीं होता है।

 

 


 उपभोक्ता फोरम ने कहा, 'पोस्ट ऑफिस इस मामले में अपनी गलती को मानने की बजाय शिकायतकर्ता को ही कसूरवार ठहरा रहा है। पोस्ट ऑफिस कर्मचारियों की यह आदत बन गई है कि वे पार्सल पर लिखे अड्रेस की लास्ट लाइन ही पढ़ते हैं। राज्य या देश में पार्सल पहुंचने के बाद ही बाकी अड्रेस पढ़ा जाता है। यह पोस्ट ऑफिस की तरफ से हुई गलती है, जिसके लिए उन्हें पांच हजार रुपये हर्जाने के तौर पर पीड़ित महिला को देने का निर्देश दिया गया है।'