इस किलें से अचानक गायब हो गईं थी पूरी बारात, जानिए इस किले का रहस्य

Daily news network Posted: 2019-07-04 20:55:05 IST Updated: 2019-07-20 09:26:01 IST
इस किलें से अचानक गायब हो गईं थी पूरी बारात, जानिए इस किले का रहस्य
  • प्राचीन किले हमेशा से ही रहस्यमयी और जिज्ञासा का विषय रहे हैं। दुनिया में ऐसे कई किले हैं, जो इतने रहस्यमयी हैं कि उनके बारे में ठीक-ठीक पता किसी को भी नहीं है। एक ऐसा ही किला भारत में भी मौजूद है....

दिल्ली

प्राचीन किले हमेशा से ही रहस्यमयी और जिज्ञासा का विषय रहे हैं। दुनिया में ऐसे कई किले हैं, जो इतने रहस्यमयी हैं कि उनके बारे में ठीक-ठीक पता किसी को भी नहीं है। एक ऐसा ही किला भारत में भी मौजूद है, जो बेहद ही रहस्यमयी है। यह रहस्यमयी किला है गढ़कुंडार का किला, जो उत्तर प्रदेश के झांसी से करीब 70 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।



11वीं सदी में बना यह किला पांच मंजिल का है, जिसमें तीन मंजिल तो ऊपर हैं, जबकि दो मंजिल जमीन के नीचे हैं।हालांकि यह किला कब बना और किसने बनवाया, इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है, लेकिन बताया जाता है कि यह किला 1500 से 2000 साल पुराना है। यहां चंदेलों, बुंदेलों और खंगार जैसे कई शासकों का शासन रहा।

 


 यह किला सुरक्षा की दृष्टि से बनवाया गया एक ऐसा बेजोड़ नमूना है, जो लोगों को भ्रमित कर देता है। किला इस तरह बनाया गया कि यह चार-पांच किलोमीटर दूर से तो दिखता है, लेकिन नजदीक आते-आते यह दिखना बंद हो जाता है। जिस रास्ते से किला दूर से दिखता है, अगर उसी रास्ते से आप आएंगे तो रास्ता किले की बजाय कहीं और ही चला जाता है, जबकि किले के लिए दूसरा रास्ता है।

 


 गढ़कुंडार के किले की गिनती भारत के सबसे रहस्यमयी किले में होती है। आसपास के लोग बताते हैं कि काफी समय पहले यहां पास के ही गांव में एक बरात आई थी। बरात यहां किले में घूमने आई। घूमते-घूमते वो लोग बेसमेंट में चले गए, जिसके बाद वो रहस्यमयी तरीके से अचानक गायब हो गए। उन 50-60 लोगों का आज तक पता नहीं चल सका। इसके बाद भी कुछ इस तरह की घटनाएं हुईं, जिसके बाद किले के नीचे जाने वाले सभी दरवाजों को बंद कर दिया गया।


 

 यह किला किसी भूल-भुलैय्या की तरह है। अगर जानकारी न हो तो इसमें अधिक अंदर जाने पर कोई भी दिशा भूल सकता है। किले के अंदर अंधेरा रहने के कारण दिन में भी यह डरावना लगता है। कहते हैं कि किले में एक खजाने का रहस्य भी छुपा हुआ है, जिसे तलाशने के चक्कर में कई लोगों की जान चली गई है। इतिहास के जानकार बताते हैं कि यहां के राजाओं के पास सोने-हीरे, जवाहरातों की कोई कमी नहीं रही। यहां के खजाने को ढूंढने की कोशिश कई लोगों ने की, लेकिन वो नाकाम रहे।