ये है सबसे अनोखा गांव, जहां सुबह चाय ली जाती है भारत में और डिनर होता है दूसरे देश में

Daily news network Posted: 2018-04-07 13:17:59 IST Updated: 2018-04-07 13:17:59 IST
ये है सबसे अनोखा गांव, जहां सुबह चाय ली जाती है भारत में और डिनर होता है दूसरे देश में
  • ये गांव भारत के उत्तर पूर्व सीमा पर स्थित नागालैंड राज्य के मोन जिले में है।

कोहिमा।

आज के इस दौर में इंसानों ने खुद को सरहदों के बीच बांट लिया है। एक-दूसरे की सरहदों में बिना अनुमति आने जाने की इजाजत नहीं होती है, लेकिन इसके बीच एक गांव ऐसा भी है, जिसके लिए सरहदें मायने नहीं रखती हैं। ये गांव भारत के उत्तर पूर्व सीमा पर स्थित नागालैंड राज्य के मोन जिले में है। इसमें सबसे खास बात ये है इस गांव में रहने वाले लोगों के पास दो देशों की नागरिकता प्राप्त है। जी हां, यहां के लोगों के पास भारत और म्यांमार दोनों देशों की नागरिकता है।

 

 

इस गांव का नाम लोंगवा है जो अपनी अजीबोगरीब लोकेशन के कारण चर्चा में बना रहता है। इस गांव से जुड़ी सबसे रोचक बात यह है कि यह गांव अंतरराष्ट्रीय सीमा रेखा में आधा भारत में और आधा म्यांमार में स्थित है। ऐसे में इस गांव के लोग आराम से म्यांमार और भारत दोनों में आ जा सकते हैं। यहां पर घर इस तरह से बसे हुए हैं की लोगों परिवारों का खाना तो म्यांमार में बनता है, लेकिन उनको आराम करने के लिए भारत में आना होता है। यही खूबी इस गांव को सबसे अलग और अनोखा बनाती है।\


 

इसमें आश्चर्य वाली बात ये है की गांव के मुखिया का एक बेटा म्यांमार की सेना में सैनिक है। इस गांव में देश के नाम पर टकराव और तनाव बिल्कुल भी नहीं दिखाई देता। इस गांव के लोग बेहद शालीन हैं और दोनों देशों से प्यार करने वाले हैं। ऐसे में यह गांव पूरी दुनिया को अमन और चैन का संदेश देने का एक उदाहरण बन रहा है।