मोदी सरकार ने अब तक 11 लाख लोगों को दिए 271 करोड़ रुपए, आप भी जल्द उठाएं इस योजना का लाभ

Daily news network Posted: 2018-04-09 12:22:39 IST Updated: 2018-06-26 12:45:26 IST
मोदी सरकार ने अब तक 11 लाख लोगों को दिए 271 करोड़ रुपए, आप भी जल्द उठाएं इस योजना का लाभ

नई दिल्ली।

केंद्र सरकार की ओर से महिलाओं के लिए एक नई योजना चल रही है। प्रधानमंत्री मातृत्व योजना (पीएमएमवीवाई) खास तौर पर महिलाओं के स्वास्थ्य में सुधार के लिए काम कर रही है। पीएमएमवीवाई के अंतर्गत 36 राज्यों व संघ शासित प्रदेशों के लिए अब तक 2048,59 करोड़ रुपये मंजूर किए गए, जिनमें से अब तक 2048.40 करोड़ रुपये जारी किए जा चुके हैं। खास बात यह है कि अब तक 22,04,182 महिलाएं इस योजना के तहत लाभ उठा चुकी हैं।

 

 

महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए समर्पित है योजना

सरकार का मकसद है कि वे जीवित बच्चे के जन्म से पहले और जन्म के बाद पर्याप्त आराम कर सकें। इसके लिए सरकार नगद प्रोत्साहन राशि भी दे रही है, ताकि गर्भवती महिला और स्तनपान कराने वाली माताओं के स्वास्थ्य में सुधार हो सके। आपको बता दें कि इस योजना का लाभ सामान्य रूप से परिवार के पहले जीवित बच्चे के लिए सभी गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए उपलब्ध है। इसमें केन्द्र सरकार अथवा राज्य सरकार अथवा सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम में काम करने वाली महिलाएं अथवा किसी भी कानून के अंतर्गत इसी प्रकार के लाभ प्राप्त करने वाली महिलाएं शामिल नहीं हैं।


 

 

हर महीन को छह हजार रुपए देगी सरकार

पीएमएमवीवाई के तहत पात्र लाभार्थी को 5,000 रुपये मिलेंगे और बच्चे के जन्म के बाद जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई) के अंतर्गत मातृत्व लाभ के स्वीकृत नियमों के अनुसार शेष नकद प्रोत्साहन राशि मिलेगी, जिससे औसतन एक महिला को 6,000 रुपये मिलेंगे।  योजना की लाभ राशि डीबीटी के जरिए लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे भेज दी जाती है। सरकार इस योजना के तहत किस्मों में पैसे देती है। गर्भावस्था के पंजीकरण के वक्त एक हजार रुपए दिए जाएंगे। इसके बाद दूसरी किस्त तब दी जाएगी जब लाभार्थी छह महीने की गर्भावस्था के बाद कम से कम एक प्रसवपूर्व जांच कर लेते हैं तो। इस किस्त में दो हजार रुपए मिलेंगे। वहीं जब बच्चे का जन्म पंजीकृत हो जाता है और बच्चे को के पहले टीके का चक्र शुरू होता है।