भारत के वैज्ञानिकों ने किया कमाल, रेशम के कीड़ों से बना दिए मानव अंग

Daily news network Posted: 2019-08-13 22:22:54 IST Updated: 2019-08-13 22:22:54 IST
भारत के वैज्ञानिकों ने किया कमाल, रेशम के कीड़ों से बना दिए मानव अंग
  • आईआईटी गुवाहाटी के वैज्ञानिकों ने रेशम के कीड़ों से मानव अंग बनाने में कामयाबी हासिल की है।

गुवाहाटी

आईआईटी गुवाहाटी के वैज्ञानिकों ने रेशम के कीड़ों से मानव अंग बनाने में कामयाबी हासिल की है। उन्होंने ये मानव अंग 3डी प्रिंटिंग बायोनिक के साथ मुगा सिल्क के प्रोटीन में से जिंदा सेल्स को मिलाकर बनाए हैं। मुगा सिल्क एक जंगली सिल्क कीड़ा होता है जो भारत के असम राज्य में पाया जाता है।

 

मुगा सिल्क के बायोनिक से टिशू के बायोप्रिंटिंग, इंप्लांट्स तथा मानव अंगों को निर्माण बेहद ही कम कीमत में किया जा सकता है। भारतीय वैज्ञानिकों की इस खोज से अब जरूरतमंद लोगों के लिए हेल्दी अंग मुहैया कराने में काफी मददगार साबित होगी।

 

अपनी इस नई बायोनिक को विकसित करने पर खुशी जाहिर करते हुए आईआईटी गुवाहाटी के बायोमेटेरियल्स एड टूशूज इंजिनियरिंग लेबोरेट्री बिमान बी मंडल ने कहा कि बायो​प्रिंटिंग एक लंबी प्रक्रिया बन गई थी, लेकिन हमने इसके समय बेहद कम करने में सफलता पायी है​ जिससें अंगों के विकास में तेजी आएगी।