#MeToo : एमजे अकबर के खिलाफ उठी एक और आवाज, अमेरिकी पत्रकार ने लगाया रेप का आरोप

Daily news network Posted: 2018-11-03 12:52:47 IST Updated: 2018-11-03 12:52:47 IST
#MeToo : एमजे अकबर के खिलाफ उठी एक और आवाज, अमेरिकी पत्रकार ने लगाया रेप का आरोप
  • यौन उत्पीड़नों के अरोपों के कारण विदेश राज्य मंत्री पद से इस्तीफ दे चुके एमजे अकबर पर दाग गहरा रहे हैं।

शिलांग।

यौन उत्पीड़नों के अरोपों के कारण विदेश राज्य मंत्री पद से इस्तीफ दे चुके एमजे अकबर पर दाग गहरा रहे हैं। अब एक भारतीय मूल की अमरीकी पत्रकार ने उन पर रेप का आरोप लगाया है। नेशनल पब्लिक रेडियो (एनपीआर) की चीफ बिजनेस एडिटर पल्लवी गोगोई का आरोप है कि अकबर ने 23 साल पहले उनका रेप किया। बता दें कि अकबर के खिलाफ दो दर्जन से अधिक महिलाओं ने रेप का आरोप लगाया है इनमें से ज्यादातर वे महिलाएं हैं जिन्होंने गत वर्षों में उनके साथ काम किया है।


 

 एनपीआर की पत्रकार पल्लवी ने वॉशिंगटन पोस्ट में अपने साथ 23 साल पहले हुई घटना का जिक्र करते हुए लिखा है, 'जब वह काम के सिलसिले में जयपुर में थी तो वहां के एक होटल में वह अकबर के साथ एक खबर पर चर्चा के लिए गई थीं। इस दौरान होटल के एक कमरे में रेप किया। हम दोनों के बीच काफी हाथापाई भी हुई। पल्लवी आगे लिखती हैं मैंने काफी संघर्ष किया लेकिन वो शारीरिक तौर पर मुझसे ज्यादा ताकतवर थे उन्होंने मेरे कपड़े फाड़ दिए और मेरा रेप किया। पल्लवी गोगोई ने बताया कि पुलिस में शिकायत करने के बजाय मुझे ज्यादा जिल्लत महसूस हो रही थी। मैंने इस बारे में किसी को भी नहीं बताया, क्या कोई मेरी बात पर भरोसा करता? मैंने खुद को ही दोषी मान लिया, मैं होटल के कमरे में गई ही क्यों थी?

 


 

 इससे पहले साल 1994 की एक अन्य घटना का जिक्र करते हुए पल्लवी ने कहा, 'मैं उनके ऑफिस गई थी और कमरे का दरवाजा बंद था मैंने उन्हें ओ-पेड पेज दिखाया और बताया कि कैसे इसकी हेडलाइन्स और रोचक बनाई है। अकबर ने मेरी कोशिश की तारीफ की और तुरंत मुझे किस करने के लिए लपके।

 

इसके बाद मेरे चेहरा शर्म से लाल हो गया, मैंने अपनी एक सहयोगी को इस पूरे घटना के बारे में बताया। पल्लवी ने बताया कि वो आज उन महिलाओं के समर्थन के लिए लिख रही हैं जिन्होंने अपने सच को बयां किया। साथ ही अपनी जवान बेटी और बेटे के लिए, ताकि जब कोई उन्हें शिकार बनाए तो वो लड़ सकें और कभी विक्टिम न बनें। वो जान सकें कि 23 साल पहले मेरे साथ क्या हुआ था, मैं ऐसे बुरे वक्त से होकर गुजरी हूं और अब मैं उससे आगे बढ़ रही हूं। बता दें कि पल्लवी गोगोर्इ मूल रूप से शिलांग की रहने वाली है।

 


मीटू अभियान से मिली प्रेरणा

 पल्लवी का कहना है कि हाल के दिनों में भारत में मीटू अभियान के तहत महिला पत्रकारों ने अकबर के खिलाफ यौन उत्पीड़न के जो आरोप लगाए हैं उनसे उनको प्रेरणा मिली। पल्लवी का कहना है कि शर्मिंदगी के चलते उन्होंने अपने साथ हुई इस घटना की शिकायत पुलिस में नहीं की और बाद में इससे परेशान होकर उन्होंने नौकरी छोड़ना ही उचित समझा।

 

एमजे अकबर की सफार्इ

हालांकि अकबर ने पल्लवी के आरोपों को गलत बताया है। समाचार एजेंसी को दिए गए अपने बयान में अकबर ने कहा है कि उन्होंने पल्लवी के आरोपों को देखा है और इस बारे में कुछ चीजें सामने लानी जरूरी हैं। अकबर ने कहा है कि साल 1994 के आस-पास उनके बीच जो कुछ हुआ वह आपसी सहमति से था और संबंधों का यह दौर कई महीनों तक चला। अकबर ने कहा कि इस रिश्ते का बुरा असर उनके पारिवारिक जीवन पर भी पड़ा।

 

 

पत्नी के किया बचाव

वहीं दूसरी ओर एमजे अकबर की पत्नी मल्लिका अकबर पहली बार अपने पति के बचाव में सामने आई हैं और एएनआई को दिए बयान में उन्होंने पल्लवी गोगोई को झूठा करार दिया है।