अब बिना पैसे के सेंकेड्स में बुक करें रेलवे का तत्काल टिकट

Daily news network Posted: 2018-04-07 15:52:45 IST Updated: 2018-06-04 15:50:40 IST
अब बिना पैसे के सेंकेड्स में बुक करें रेलवे का तत्काल टिकट
  • अगर आप अपने परिवार के साथ जल्द ही कहीं घूमने की प्लानिंग कर रहे हैं तो आपके लिए खुशखबरी है।

अगर आप अपने परिवार के साथ जल्द ही कहीं घूमने की प्लानिंग कर रहे हैं तो आपके लिए खुशखबरी है। दरअसल भारतीय रेलवे ने टिकिंग बुकिंग के प्रोसेस को थोड़ा आसान कर दिया है। इसके तहत अब इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्प पर तत्काल कोटा के तहत बुक नाउ पे लेटर फीचर मौजूद है। ऐसे में अब आप पहले टिकट बुक करेंगे और पैसे बाद में चुकाने होंगे। सबसे पहले यह फीचर सिर्फ जनरल रिजर्वेशंस के लिए ही उपलब्ध था। तत्काल बुकिंग्स के लिए अभी तक लोगों को अपने कंफर्म टिकट के लिए स्टैंडर्ड ऑनलाइन पेमेंट गेटवे से पहले ही भुगतान करना होता था।



 

आपको बता दें कि यात्री हमेशा शिकायत करते थे कि तत्काल में ऑनलाइन टिकट बुक कराते समय उन्हें ट्रांजेक्शन के समय हमेशा परेशानी झेलनी पड़ती थी क्योंकि आईसीटीसी वेबसाइट की स्पीड काफी धीमी थी। ऐसा माना जा रहा है कि इस नई सुविधा से यात्रियों को तत्काल बुकिंग पर कन्फर्म टिकट के मौके बढ़ेंगे। आईआरसीटीसी के लिए यह सेवा देने वाली कंपनी एंडुरिल टेक्नोलॉजिस के मुताबिक नए विकल्प से ऑनलाइन बुकिंग कराने वालों की संख्या बढ़ेगी। अब इस नई सुविधा के बाद पैसेंजर्स टिकट की घर में डिलीवरी आने के बाद कैश, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड से पैमेंट कर सकेंगे। आईआरसीटीसी डॉट पे ऑन डिलीवरी डॉट को डॉट इन पर पंजीकरण करना होगा। टिकट बुकिंग के समय पे ऑन डिलीवरी विकल्प चुनने के बाद घर पर भुगतान की सुविधा मिलेगी।



 

Arthashastra Fintech Pvt Ltd का ePaylater का इस्तेमाल करने के लिए पहले से रजिस्ट्रेशन करने की जरूरत होती है। इसके बाद आपसे पैन या आधार की जानकारी भी मांगी जाएगी। बुक नाउ पे लेटर के जरिए टिकट बुक करने के लिए कुछ निजी जानकारियां, सर्विस प्रोवाइडर्स को देनी होगी। इस फीचर के जरिए जैसे ही आपका टिकट बुक होता है, आपको ईमेल या एसएमएस के जरिए टिकट भेज दिया जाएगा। इसके अलावा ग्राहक ऑनलाइन भुगतान भी कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें बुकिंग के समय एक पेमेंट लिंक भेजा जाता है। टिकट के पैसों का भुगतान करने के लिए IRCTC यूज़र्स के पास 15 दिन का समय होगा, लेकिन याद रखें कि भुगतान में देरी होने पर आपको 36 प्रतिशत का ब्याज़ देना पड़ सकता है। 




लेट पेमेंट फी लगने के बावज़ूद आप भुगतान नहीं करते हैं तो यूजर्स के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी संभव है। इसके अलावा यूजर्स के अकाउंट को भी डीएक्टिवेट किया जा सकता है। आईआरसीटीसी के पे-ऑन-डिलिवरी (पीओडी) सिस्टम का एक और फ़ायदा यह है कि यूज़र को सिर्फ तभी भुगतान करना होगा, जबकि टिकट सफलतापूर्वक बुक हो जाए। डिलीवरी से पहले टिकट कैंसल करने पर, ग्राहको को कैंसलेशन और डिलीवर चार्ज देने होंगे।