अंबुवाची मेले में सिंगर कैलाश खेर ने बांधा समा, भूपेन हजारिका को किया याद

Daily news network Posted: 2019-06-24 13:44:45 IST Updated: 2019-06-24 13:44:45 IST
अंबुवाची मेले में सिंगर कैलाश खेर ने बांधा समा, भूपेन हजारिका को किया याद
  • असम के गुवाहाटी में मां कामाख्या मंदिर में लगने वाले अंबुवाची मेले का उद्घाटन 21 जून से हो चुका है। माता के 51 शक्तिपीठों में से एक कामाख्या अपने तंत्र मंत्र के लिए जाना जाता है।

असम के गुवाहाटी में मां कामाख्या मंदिर में लगने वाले अंबुवाची मेले का उद्घाटन 21 जून से हो चुका है। माता के 51 शक्तिपीठों में से एक कामाख्या अपने तंत्र मंत्र के लिए जाना जाता है। शुक्रवार को शुरू हुए इस मेले का उद्घाटन असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल द्वारा किया गया।


 उद्घाटन समारोह में आकर्षण का केंद्र प्रसिद्ध लोक, शास्त्रीय गायक और पद्मश्री  कैलाश खेर रहे। जिन्होंने अपनी प्रस्तुतियों से सभी का मन मोह लिया। शिव के भक्त खेर ने बार बार माता कामाख्या के लिए भजन गाने की अपनी इच्छा को उजागर किया तो वही दूसरी ओर भारत रत्न भूपेन हजारिका को याद किया। 

 


 बता दें कि हजारिका असम के नदिया में ही जन्मे थे और उन्होंने हिंदी के साथ साथ असमिया भाषा में गाया है। हजारिका का जिक्र करते हुए कैलाश खेर ने कहा कि मै उनकी कृतियों और योगदान को सलाम करता हूं। आगे खेर बताते है कि मेरे पास हजारिका जी का एक हारमोनियम है जो मैंने नीलामी में 5 लाख रुपए में जीता था। साथ ही खेर ने असमिया गायक जुबिन गर्ग की तारीफ की। 

 


 बता दें कि इस मेले में केंद्रीय नेताओं सहित विधायकों का तांता लगा रहता है। अभी हाल में स्मृति ईरानी मंदिर का दौरा कर चुकी हैं। मेले में भक्ति गायिका अदिति भारती प्रस्तुति देंगी।


 कामाख्या मंदिर में देवी के वार्षिक मासिक धर्म को चिह्नित करने के लिए 22 जून, से मंदिर का दरवाजा बंद किया गया है। दरवाजा 26 जून, 2019 को सुबह खुलेगा।