बॉलीवुड एक्ट्रेस मिष्ठी ने उठाया असम में 12 साल की बच्ची से रेप का मुद्दा

Daily news network Posted: 2018-04-17 18:35:12 IST Updated: 2018-04-17 22:48:29 IST
  • जहां एक ओर बॉलीवुड के सभी कलाकार कठुआ रेप मामले पर अपनी संवेदना जता रहे हैं, वहीं बॉलीवुड अभिनेत्री मिष्टी चक्रवर्ती बीते 23 मार्च को असम के नगांव में हुए 12 साल की नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार के बाद जिंदा जलाए...

जहां एक ओर बॉलीवुड के सभी कलाकार कठुआ रेप मामले पर अपनी संवेदना जता रहे हैं, वहीं बॉलीवुड अभिनेत्री मिष्टी चक्रवर्ती बीते 23 मार्च को असम के नगांव में हुए 12 साल की नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार के बाद जिंदा जलाए जाने की घटना की याद दिला रही हैं।

 


 बता दें कि असम में पांचवी क्लास में पढ़ने वाली 12 साल की हिंदू छात्रा से रेप के बाद उसे केरोसीन डालकर जिंदा जलाया गया था। इस घटना में शामिल शख्स 21 साल का जाकिर हुसैन और दो अन्य लोग थे। इलाज के दौरान स्थानीय बीपी सिविल अस्पताल ने पीड़ित लड़की की मौत हो गयी थी। 

 

 अभिनेत्री अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर अपने एक पोस्ट में लिखा, '23 मार्च को असम के नगांव में 12 साल की हिंदू लड़की के साथ सामुहिक बलात्कार के बाद उसे किरोसिन डालकर तीन लड़कों ने जिंदा जला दिया था।'


 अपने दूसरे पोस्ट में मिष्ठी ने लिया, 'यह मायने नहीं रखता है कि लड़की हिंदू है या मुस्लिम... यह मायने नहीं रखता हैं कि यह मंदिर था या मस्जिद...। सिर्फ एक ही चीज मायने रखती हैं कि वह निर्दोश थी और वे बलात्कारी दरिंदे हैं और उन सभी को फांसी पर लटका देना चाहिए।'

 इसके साथ ही अभिनेत्री ने असिफा के लिए न्याय की मांग करते हुए बलात्कारियों को मौत की सजा देने का समर्थन किया।


 बता दें कि मिष्टी बॉलीवुड अभिनेत्री हैैं। उन्हें हिंदी सिनेमा में सुभाष की फिल्म कांची के लिए जाना जाता है। मिष्टी चक्रवर्ती का जन्म 20 दिसंबर 1987 को कोलकाता पश्चिम बंगाल में हुआ था। मिष्टी ने अपनी प्रारम्भिक पढाई कोलकाता से पूरी की है।

 


 मिष्टी ने अपने करियर की शुरुआत सुभाष घई निर्देशित फिल्म कांची से की थी। यह फिल्म बॉक्स-ऑफिस पर औसतन साबित हुई थी। उसके बाद वह तेलुगु की फिल्मों में नजर आई। अब एक बार फिर से मिष्टी हिंदी सिनेमा में अपनी वापसी मस्ती के तीसरे भाग ग्रेट ग्रांड मस्ती से करने जा रही हैं। वह इस फिल्म में विवेक ओबरॉय की पत्नी की भूमिका निभाती हुई नजर आयेंगीं।

 

 

 

We had enough debate in the last few days on why only ASIFA.... why r we not speaking of the previous cases... why r we highlighting the 'temple' and so on... And we deviated from the real problem... Guys this happens everywhere... i know temple is not the only place.... It has happened in other religious institutions... In schools and in colleges... In the villages and in the cities... And the worst- even in the security of our own homes... Yes i know it has happened in BIHAR and ASSAM recently... It has happened in delhi and kolkata... there's hardly any place where this has not happened... Perhaps i have not spoken before and u have shown ur anger for that... but guys better late than never.... posting every incident might not be possible for u and me.. But we can stand up for few atleast.... Doesn't matter if the child belong to north or south... east or west or north east.... Let us demand punishment for all rapists... hindus , muslims or Christians or any other.... all alike Rapists does not have any religion.... You might think celebrities have the power to change the world... thats not true... they too r as helpless as u are... but together as a nation we can definitely be powerful... your strength can be our strength.... Lets just demand death penalty to all rapists... #hangallrapists #saveourchild #saveourchildren #raise_a_voice #wakeupindia #justiceforasifa  #all_religions_are_equal #tag_the_pm and other influential people in this post.... share as much as u can... we want justice for all rape victims from all regions

A post shared by Mishti Chakravarty (@mishtichakravarty) on