समुद्र के किनारे बसा है खूबसूरत प्राचीन शहर 'भटकल'

Daily news network Posted: 2019-02-09 17:17:10 IST Updated: 2019-02-09 19:03:06 IST
  • कर्नाटक में स्थित भटकल अरब सागर के किनारे में बसा हुआ है। यह उत्तर कर्नाटक के कारवार से 130 कि. मी दूर है। भटकल शहर और इसके बंदरगा दोनों ही बहुत प्राचीन है।

कर्नाटक में स्थित भटकल अरब सागर के किनारे में बसा हुआ है। यह उत्तर कर्नाटक के कारवार से 130 कि. मी दूर है। भटकल शहर और इसके बंदरगा दोनों ही बहुत प्राचीन है। भटकल का गौरवशाली इतिहास और उसके सुंदर समुद्री तट इसके आकर्षण का केंद्र है। यह एनएच 17 पर स्थित है और कोंकण रेलवे द्वारा आप भटकल पहुंच सकते हैं।



भटकल पर कई शासन कारों ने राज किया। जैसे कि होयसला राजवंश, विजयनगर साम्राज, सलुव राजवंश और चोला राजवंश। इन सभी ने अपने अपने शासन की छाप भटकल पर छोड़ी है। टीपू सुल्तान ने अंत तक भटकल पर शासन किया। भटकल पर पुर्तगाली भी अपनी गहरी छाप छोड़ गए हैं। इसलिए भटकल का इतिहास बहुत ही रोचक है।



यहां देखने लायक कई मंदिर, मस्जिद और जैन बस्तियां हैं। इन में से प्रसिद्ध है, जामा मस्जिद, खलिफा मस्जिद और नूर मस्जिद। केतपैया नारायण यहां का प्रसिद्ध मंदिर है। सैलानियों को यहां का समुद्री तट और सूर्यास्त बहुत लुभाता है। इन सभी के कारण भटकल अपनी एक अलग छवि बनाता है। भटकल जाने के लिए रोड मार्ग और रेल मार्ग की सेवा उपलब्द है। मेंगलौर हवाई अड्डा भटकल के लिए सब से नजदीकी हवाई अड्डा है।