रणजी ट्रॉफी 2018ः लगातार 4 मैच जीतने वाली उत्तराखंड आज मेघालय को देगी कड़ी टक्कर

Daily news network Posted: 2018-12-06 10:04:52 IST Updated: 2018-12-07 08:53:33 IST
रणजी ट्रॉफी 2018ः लगातार 4 मैच जीतने वाली उत्तराखंड आज मेघालय को देगी कड़ी टक्कर

रणजी ट्रॉफी मुकाबले में उत्तराखंड की टीम गुरुवार को अपना लगातार पांचवां मुकाबला जीतने के इरादे से मैदान में उतरेगी। रायपुर स्थित राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में उत्तराखंड का मुकाबला मेघालय के साथ होगा। टीम का इस स्टेडियम में यह दूसरा मैच होगा। उत्तराखंड की टीम अब तक के अपने चार मुकाबलों में जीत हासिल करने में सफल रहीं है। 




गुरुवार को रजत भाटिया एंड कंपनी अपने पांचवें मैच में भी जीत के इरादे से उतरेगी। अब तब अपने चार मैचों में जीत हासिल कर टीम का हौसला बुलंद है। एक तरफ जहां बल्लेबाज शानदार प्रदर्शन कर दोहरे शतक तक लगा रहे हैं, तो दूसरी ओर मिल रही सफलता से गेंदबाज भी उत्साहित हैं। टीम पूरी तरह फॉर्म में चल रही है। ऐसे में मेघालय के लिए जीत हासिल करना बड़ी चुनौती होगा।

 

 

टीम के ओपनर बल्लेबाज करनवीर कौशल चौथे मैच से पहले कंधे में इंजरी होने के वजह से टीम से बाहर हो गए थे। हालांकि अब वह पूरी तरह फिट हैं और बृहस्पतिवार के मुकाबले में वह लगभग प्लेइंग इलेवन में रहेंगे। चौथे मैच में उनकी जगह कर्नल सीके नायडू टीम के ओपनर पीयूष जोशी को शामिल किया गया था। जिन्हें अब वापस भेज दिया गया है।

 

 

उत्तराखंड और मेघालय के बीच राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में बृहस्पतिवार से शुरू हो रहे मैच को लेकर दोनों ही टीमों ने पूरी तैयारियां कर ली हैं। बुधवार को दोनों टीमों ने स्टेडियम में जमकर पसीना बहाया। पहले सुबह 9 बजे से लेकर दोपहर 12 बजे तक उत्तराखंड ने प्रैक्टिस की। जबकि मेघालय की टीम ने सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक पसीना बहाया। 

 


 

दोनों टीमें इस प्रकार है

उत्तराखंड : रजत भाटिया कप्तान, विनीत सक्सेना, मलोलन रंगराजन, करनवीर कौशल, वैभव सिंह पंवार, वैभव भट्ट, सौरभ रावत विकेटकीपर, मयंक मिश्रा, शिवम खुराना, सन्नी कश्यप, गिरीश रतूड़ी, कार्तिक जोशी, दीपक धपोला, सन्नी राणा, धनराज शर्मा। 

 

मेघालय : जैसन जे लामारे कप्तान, पुनीत सिंह बिष्ट विकेटकीपर, दीपू संगमा, लक्ष्मण, गुरिंदर सिंह, चेंगकाम संगमा, योगेश नागर, अभय नेगी, टेंगच संगमा, लखन सिंह, बिजॉय डेय, डब्ल्यू अल्लमबोक, आदित्य सिंघानिया, राज बिस्वा, स्वरजीत दास।