हॉकी: अजलान शाह कप में स्वर्ण जीतने पर भारत की नजरें

Daily news network Posted: 2019-03-19 15:07:29 IST Updated: 2019-03-19 15:07:29 IST
हॉकी: अजलान शाह कप में स्वर्ण जीतने पर भारत की नजरें
  • मलेशिया में शुरू होने वाले 28वें सुल्तान अजलान शाह कप-2019 के लिए रवाना होने से पहले भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह और उनकी टीम साल के इस पहले टूर्नामेंट को लेकर उत्सुक हैं।

बेंगलुरू/इंफाल।

मलेशिया में शुरू होने वाले 28वें सुल्तान अजलान शाह कप-2019 के लिए रवाना होने से पहले भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह और उनकी टीम साल के इस पहले टूर्नामेंट को लेकर उत्सुक हैं।


 23 मार्च से मलेशिया के इपोह में शुरू होने वाले इस टूर्नामेंट में भारत को अपना पहला मैच एशियाई चैम्पियन जापान के साथ खेलना है। दोनों टीमें इससे पहले पिछले साल एशियाई चैम्पिसं ट्रॉफी में आमने-सामने हुई थी।


 कप्तान मनप्रीत ने रवाना होने से पहले कहा, ' यह इस सीजन का पहला टूर्नामेंट है और स्वाभाविक रूप से हम इसकी सकारात्मक शुरुआत करने के लिए काफी उत्सुक हैं। इसमें अच्छा प्रदर्शन करने से भुवनेश्वर में एफआईएच पुरुष सीरीज फाइनल्स के लिए हमें मदद मिलेगी।'


 इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में भारत के अलावा मेजबान मलेशिया, कनाडा, कोरिया, दक्षिण अफ्रीका और एशियाई खेलों की चैम्पियन जापान की टीमें भाग ले रही हैं। उन्होंने कहा, 'टूर्नामेंट के लिए हमने कैम्प में कड़ी मेहनत की है। कैम्प में दोपहर में गर्म मौसम में अभ्यास करने से हमें इपोह में वहां की परिस्थितियों के साथ तालमेल बिठाने में मदद मिलेगी।'


 उन्होंने कहा, 'हम टूर्नामेंट के अपने पहले मैच में एशियाई चैम्पियंस जापान से खेलेंगे और उन्हें हराने के लिए हमें पूरी कोशिश करनी होगी।' भारत को टूर्नामेंट में अपना दूसरा मैच 24 मार्च को कोरिया से और तीसरा मैच 26 मार्च को एशियाई खेलों की रजत पदक विजेता मलेशिया से खेलना है।


 मनप्रीत ने कहा, 'बेशक हम टूर्नामेंट में ऊंची रैंकिंग वाली टीम हैं लेकिन हम ज्यादा अति उत्साहित नहीं हो सकते। हमें सीधे फाइनल के बारे में सोचने के बजाय एक-एक मैच के बारे में सोचना होगा और उस पर ध्यान लगााना होगा। प्रत्येक मैच महत्वपूर्ण है और हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हम अपने सभी मैच में जीत दर्ज करें।'


 मनप्रीत का मानना है कि टीम के लिए विश्व सीखने का एक अच्छा टूर्नामेंट था। उन्होंने कहा कि टूर्नामेंट के लिए कई ऐसे खिलाडिय़ों को मौका दिया गया है कि दबाव में खुद को संभालने की बेहतर स्थिति में हैं। कप्तान ने कहा, 'कैम्प में हमने अपनी गलतियों को परखा है और टीम में कुछ नए संयोजन विकसित करने का भी प्रयास किया है, जोकि हमारे खेल को बेहतर बनाने में हमारी मदद कर सकते हैं। हम अपनी जीत की संभावनाओं को लेकर आश्वस्त हैं।'