एसोसिएशन करेगी दावा तो इस राज्य में भी होंगे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबले: सीके खन्ना

Daily news network Posted: 2019-10-09 09:29:38 IST Updated: 2019-10-09 12:00:53 IST
एसोसिएशन करेगी दावा तो इस राज्य में भी होंगे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबले: सीके खन्ना
  • बीसीसीआई के कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना का कहना है कि अगर एसोसिएशन बीसीसीआई के सामने दावा करेगी तो यहां भी भारत के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच हो सकते हैं।

बीसीसीआई के कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना का कहना है कि अगर एसोसिएशन बीसीसीआई के सामने दावा करेगी तो यहां भी भारत के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच हो सकते हैं। क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड (सीएयू) को मान्यता मिलने के बाद पहली बार बीसीसीआई के कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना दून पहुंचे। उन्होंने सीएयू को मान्यता मिलने पर बधाई दी। अचानक देहरादून दौरे के सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि विजय हजारे ट्रॉफी के आयोजन को देखने वो यहां आए हैं।


 

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मैचों को लेकर अच्छा फीडबैक मिला है। एसोसिएशन के काम की तारीफ हो रही है। खिलाड़ी खुश हैं। यह बेहतर कदम है, इसलिए उत्तराखंड में टूर्नामेंट दिए जा रहे हैं। भारतीय टीम के मैचों के बारे में खन्ना ने कहा कि अब प्रदेश में एसोसिएशन है। बीसीसीआई के चुनाव के बाद नया बोर्ड बनेगा, उसमें उत्तराखंड से महिम वर्मा भी शामिल होंगे। उत्तराखंड में भारतीय टीम के मैच कराने के लिए सीएयू बीसीसीआई के सामने दावा करेगी तो यहां भी अंतरराष्ट्रीय मैच हो सकेंगे।

 

 


वहीं दूसरी ओर आईपीएल मैचों के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह फैसला टीम फ्रैंचाइजी का होता है। बीते साल बीसीसीआई में शामिल हुए नए प्रदेशों में खिलाड़ियों के सवाल पर खन्ना ने कहा कि नए प्रदेशों में सुविधाओं को बढ़ाया जा रहा है। बीसीसीआई इसके लिए मदद कर रही है। नॉर्थ ईस्ट के राज्यों में भी शानदार खिलाड़ी हैं, उन प्रदेशों को भी अब अपने स्टेडियम बनाने होंगे।



 मैच खत्म होने के बाद सीके खन्ना ने उत्तराखंड के कप्तान उन्मुक्त चंद, कोच गुरशरण सिंह से मुलाकात कर जीत की बधाई दी। वहीं अरुणाचल के कप्तान सांग ताछो और कोच संजीव शर्मा से भी सीके खन्ना मिले। इस अवसर पर क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के अध्यक्ष जोत सिंह गुनसोला, सचिव महिम वर्मा, पूर्व सचिव पीसी वर्मा, पूर्व कोषाध्यक्ष एएस मेंगवाल, संजय गुसाईं, रोहित चौहान आदि मौजूद रहे।