नौकरी के बहाने 70 हजार में बेचा जा रहा था युवतियों को, घिनौने काम में महिला भी शामिल

Daily news network Posted: 2019-05-29 08:55:45 IST Updated: 2019-05-29 09:18:06 IST
नौकरी के बहाने 70 हजार में बेचा जा रहा था युवतियों को, घिनौने काम में महिला भी शामिल
  • गांव बड़ोपल में मिली असम की युवती के मामले में सदर पुलिस ने दो आरोपित युवकों को गिरफ्तार कर लिया है।

गांव बड़ोपल में मिली असम की युवती के मामले में सदर पुलिस ने दो आरोपित युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में सदर पुलिस ने उत्तर प्रदेश के गाजीपुर निवासी धर्मेद्र तथा असम के बाराबटा निवासी अमीर खान को गिरफ्तार किया है। दोनों को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। यहां से दो दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया है।

 


 पूछताछ में आरोपित ने बताया कि असम निवासी आरोपित महिला पिकी नौकरी के बहाने असम से दिल्ली तक युवतियां लेकर आती और यहां युवतियां उन्हें सौंप देती थी। इसके बाद हिसार निवासी उत्तम सिंह पंजाबी को बेच देते थे। उत्तम सिंह पंजाबी आगे शादी करने के लिए बेच देता था। आरोपितों ने बताया कि बरामद हुई युवती का 80 हजार रुपये में सौदा हुआ था और इसे 70 हजार रुपये में उत्तम सिंह को बेचा गया था। अब तक कई युवतियां असम से आ चुकी हैं और इन्हें आगे बेचा जा चुका है। मामले में अभी तक हिसार निवासी उत्तम सिंह की गिरफ्तार नहीं हुई है। आरोपित उत्तम सिंह की गिरफ्तारी के बाद ही खुलासे हो सकते हैं कि आगे-आगे कहां-कहां बेचा गया है।

 

 


गांव बड़ोपल से सदर पुलिस ने असम निवासी युवती को बरामद किया था। पूछताछ में युवती ने बताया था कि उसे नौकरी के बहाने लाया गया और इसके बाद हिसार पहुंचने पर उसे बेचने की तैयारी चल रही थी। यहां से वह फरार हो गई। सदर पुलिस ने युवती की शिकायत पर आरोपित महिला पिकी, उत्तरप्रदेश के गाजीपुर निवासी धमेंद्र, असम के बाराबटा निवासी अमीरखान तथा हिसार निवासी उत्तम सिंह के खिलाफ मामला दर्ज किया था।