महिला को पति व बेटे के सामने न्यूड कर पीटा, मामला दर्ज

Daily news network Posted: 2018-04-02 11:57:08 IST Updated: 2018-08-29 13:14:51 IST
महिला को पति व बेटे के सामने न्यूड कर पीटा, मामला दर्ज
  • त्रिपुरा से चौंकाने वाली घटना सामने आई है। उदयपुर में एक महिला को न्यूड कर पीटा गया। पीडि़ता की पहचान सोमा दास के रूप में हुई है।

अगरतला।

त्रिपुरा से चौंकाने वाली घटना सामने आई है। उदयपुर में एक महिला को न्यूड कर पीटा गया। पीडि़ता की पहचान सोमा दास के रूप में हुई है। वह श्यामल दास की पत्नी है। शनिवार को सोमा दास को उसके पति व बेटे के सामने न्यूड कर पीटा गया। आपको बता दें कि उदयपुर मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब का होम टाउन है। आरोपियों की पहचान सुकांता शिल और बिल्लब कार के रूप में हुई है।

 

आरोपियों व  श्यामल दास के बीच जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। घटना हाद्रा के वार्ड नंबर 2 की है। इस घटना से राज्य में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सवाल खड़ा हो गया है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना को लेकर एफआईआर दर्ज कर ली गई है। घटना के बाद से फरार आरोपियों को पकडऩे के लिए हमने सर्च ऑपरेशन लॉन्च किया है। उम्मीद है कि हम जल्द ही उन्हें पकड़ लेंगे।


आपको बता दें कि त्रिपुरा में जब लेफ्ट फ्रंट की सरकार थी तब भाजपा महिलाओं की सुरक्षा को लेकर माणिक सरकार को घेरती थी लेकिन भाजपा के सत्ता में आने के बाद महिलाओं के साथ अभद्रता की यह दूसरी बड़ी घटना है।  गत बुधवार को सिपाहिजाला जिले के बिशलगढ़ मार्केट में दो महिलाओं की दिन दहाड़े निर्ममता से पिटाई की गई थी। इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गई थी। जिन महिलाओं की पिटाई की गई वे सगी बहने हैं। उन पर कुछ दुकानदारों ने हमला किया था।

 


पीडि़ताओं की पहचान तितु साहा और मिथु साहा के रूप में हुई थी। दोनों खरीदारी करने बिशालगढ़ साउथ मार्केट गई थी। वे स्वप्न साहा नाम के एक शख्स की दुकान पर गई। जब वे सॉफ्ट ड्रिंक ले रही थी तभी दुकान के मालिक स्वप्न साहा ने अचानक मिथु के हाथ से सॉफ्ट ड्रिंक खींच ली। दोनों बहनों ने दुकानदार की इस हरकत का विरोध किया, जिसके बाद उनके बीच जमकर कहासुनी हुई।

 

स्थिति उस वक्त खराब हो गई जब कहासुनी हाथापाई में बदल गई और दुकानदार महिलाओं को पीटने लगा। इस बीच पड़ोस की दुकानों के मालिक भी स्वप्न साहा का साथ देने आ गए और वे भी महिलाओं को पीटने लगे। इसके बाद इलाका जंग के मैदान में तब्दील हो गया। बाद में पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों महिलाओं को दुकानदारों के कब्जे से छुड़ाया।