अगले 72 घंटे में भयंकर तूफान की चेतावनी, इन राज्यों में होगी तेज बारिश

Daily news network Posted: 2019-06-12 17:22:11 IST Updated: 2019-06-12 19:49:48 IST
  • दक्षिण पश्चिम मानसून दक्षिणी अरब सागर, लक्षद्वीप के शेष हिस्सों में, केरल के अधिकतर हिस्सों में तथा तमिलनाडु के कुछ और हिस्सों में आगे बढ़ा है।

दक्षिण पश्चिम मानसून दक्षिणी अरब सागर, लक्षद्वीप के शेष हिस्सों में तथा केरल के अधिकतर हिस्सों में तथा तमिलनाडु के कुछ और हिस्सों में आगे बढ़ा है। मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण बंगाल की खाड़ी के शेष हिस्सों, दक्षिण पश्चिम और पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी, मिजोरम के अधिकतर हिस्से और मणिपुर के कुछ हिस्सों में भी मानसून आगे बढ़ा है। दिल्ली,पश्चिम राजस्थान में कुछ हिस्सों में, हरियाणा, चंडीगढ़, पूर्वी राजस्थान और मध्य प्रदेश में सोमवार के अलग-अलग हिस्सों में लू का प्रकोप रहा।


 

 


दिन का तापमान बिहार के कुछ हिस्सों में तथा राजस्थान के शेष हिस्सों में सामान्य से काफी अधिक ऊपर रहा। पश्चिम बंगाल में गंगा के तटवर्ती इलाके, झारखंड, उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में, उत्तराखंड, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, गुजरात , कोंकण, गोवा, मध्य महाराष्ट्र, विदर्भ, छत्तीसगढ़, तटीय आंध्र प्रदेश, रायलसीमा, तमिलनाडु और कर्नाटक के कुछ हिस्सों में तथा हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और मध्य प्रदेश के शेष हिस्से में तापमान सामान्य से काफी ऊपर रहा। पोर्ट ब्लेयर में आज सुबह छह बजे लगभग तीन मिनट तक पश्चिम दिशा से लगभग 62 किमी प्रति घंटे की गति से तेज हवा चली। अगले 24 घंटे के दौरान तटीय कर्नाटक और लक्षद्वीप में अलग-अलग स्थानों पर तेज से अति तेज बारिश होने का अनुमान है। इसके साथ ही अंडमान निकोबार द्वीप समूह, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल के पर्वतीय इलाके, सिक्किम, कोंकण, गोवा, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, आंतरिक कर्नाटक और केरल में अलग अलग स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है।

 

 


भारत में मानसून के आगमन के साथ ही एक ओर जहां उत्तरपूर्वी राज्यों, मेघालय, असम, त्रिपुरा आदि में मूसलाधार बारिश हो रही हैं वहीं, दूसरी ओर पश्चिमी भारत पर वायु तूफान का खतरा मंडरा गया है। अरब सागर में पैदा हुआ चक्रवाती तूफान ‘वायु’ महाराष्ट्र से उत्तर में गुजरात की तरफ बढ़ रहा है। खबर है कि 13 जून यह तूफान गुजरात के तटीय इलाकों में पहुंचेगा। इसको लेकर गृह मंत्री अमित शाह ने बैठक कर सभी तैयारियों का जायजा लिया है। उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों को लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने और सभी जरूरी सामग्रियों के रखरखाव जैसे बिजली, टेलीकम्युनिकेशन, स्वास्थ्य, पीने का पानी समेत अन्य चीजों को सुनिश्चित करने के लिए कहा है। इसके साथ ही तूफान से क्षति होने की स्थिति में इन चीजों को जल्द से जल्द बहाल करने के आदेश दिए।


 


 110 से 130 किमी प्रति घंटा की गति

 IMD के अनुसार ‘वायु’ तूफान उत्तर की ओर बढ़ रहा है तथा 13 जून को सुबह गुजरात के तटीय इलाकों में पोरबंदर से महुवा, वेरावल और दीव क्षेत्र में दस्तक देगा। इस तूफान की गति 110 से 130 किमी प्रति घंटा तक हो सकती है। उत्तरी महाराष्ट्र के तटों पर 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं।