इस पार्टी ने भाजपा पर वोटर्स को धमकाने का लगाया आरोप, जानिए पूरा मामला

Daily news network Posted: 2019-04-24 11:19:55 IST Updated: 2019-04-24 11:20:26 IST
इस पार्टी ने भाजपा पर वोटर्स को धमकाने का लगाया आरोप, जानिए पूरा मामला
  • त्रिपुरा में विपक्षी पार्टियों ने लोकसभा चुनावों के दौरान सत्तारूढ़ भाजपा के कार्यकर्ताओं द्वारा मतदाताओं को धमकाए जाने की शिकायत की।

अगरतला

त्रिपुरा में विपक्षी पार्टियों ने लोकसभा चुनावों के दौरान सत्तारूढ़ भाजपा के कार्यकर्ताओं द्वारा मतदाताओं को धमकाए जाने की शिकायत की। माकपा के मौजूदा सांसद एवं उम्मीदवार ने कहा कि वह अपने मताधिकार का इस्तेमाल नहीं कर पाये क्योंकि वह दूसरे जिले में थे और वहां के लोगों में जोश भरने का काम कर रहे थे। भाजपा ने हालांकि इन आरोपों से इनकार किया है और कहा कि लोगों ने त्यौहार की तरह मतदान में हिस्सा लिया।

 

 


त्रिपुरा पूर्वी (एसटी) सीट पर शाम करीब पांच बजे तक 12,61,861 वोटरों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया और करीब 80.4 प्रतिशत मतदान हुआ। विपक्षी पार्टियों ने राज्य में एक अन्य लोकसभा सीट त्रिपुरा पश्चिम में 11 अप्रैल के चुनाव के दौरान भारी धांधली होने का आरोप लगाते हुए फिर से चुनाव कराने की मांग की है। त्रिपुरा पूर्वी से फिर से चुनाव मैदान में खड़े माकपा सांसद जितेंद्र चौधरी ने कहा कि वह मतदान नहीं कर सके क्योंकि वह घर से बाहर थे।

 

 

 


मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) श्रीराम तरनीकांति ने बताया कि छिटपुट घटनाओं को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण तरीके से हुआ। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीदवार के ही अपने मताधिकार का इस्तेमाल नहीं कर पाने के बारे में जानकारी नहीं थी। उन्होंने कहा, ‘‘यह सुनकर मुझे बुरा लग रहा है। अगर एक भी मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल नहीं कर पाया तो यह मेरे लिये पीड़ादायक है।’’

 

 

 


कांग्रेस के उपाध्यक्ष तापस डे ने आरोप लगाया कि सुरक्षा इंतजामों के बावजूद भाजपा के गुंडों ने सोमवार रात कांग्रेस मतदाताओं को धमकाया और उन्हें मतदान केंद्रों से वापस जाने को मजबूर किया। भाजपा प्रवक्ता नबेंदू भट्टाचार्य ने आरोप लगाया कि माकपा कार्यकर्ताओं ने दक्षिण त्रिपुरा जिले में भाजपा के मतदाताओं को डराया-धमकाया और कई मामलों में पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्य किया। इस संबंध में चुनाव आयोग में शिकायत की गयी है।