केंद्र की सौगात, इन दो राज्यों में 190 करोड़ रुपये की परियोजनाआें को दी मंजूरी

Daily news network Posted: 2019-01-12 13:04:24 IST Updated: 2019-01-13 08:40:07 IST
केंद्र की सौगात, इन दो राज्यों में 190 करोड़ रुपये की परियोजनाआें को दी मंजूरी
  • पर्यटन मंत्रालय ने मेघालय और उत्तर प्रदेश में आध्यात्मिक सर्किटों के विकास के लिए 190 करोड़ रुपये की परियोजनाओं को मंजूरी दे दी गर्इ है।

शिलांग।

पर्यटन मंत्रालय ने मेघालय और उत्तर प्रदेश में आध्यात्मिक सर्किटों के विकास के लिए 190 करोड़ रुपये की परियोजनाओं को मंजूरी दे दी गर्इ है। मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि स्वदेश दर्शन योजना के पूर्वोत्तर सर्किट के तहत उसने मेघालय में पश्चिमी खासी पहाड़ी क्षेत्र (नोंगख्लव-क्रेम तिरोट-खुदोई एवं कोहमांग झरना-ख्री नदी-मावथद्रैशन, शिलांग), जयंतिया पहाड़ी क्षेत्र (क्रांग सूरी झरना-शियरमांग-लुकसी) और गारो पहाड़ी क्षेत्र (नोकरेक रिजर्व, कट्टा बील, सीजू गुफा) के विकास के लिए 84.95 करोड़ रुपये आवंटित किये हैं।

 


 ये परियोजनाएं मेघालय की कम चर्चित जगहों के विकास पर केन्द्रित है। मंत्रालय इस परियोजनाओं के जरिये मेघालय में उत्‍सव मैदान, पर्यटन सुविधा केन्‍द्र, जन सुविधाएं, केबल पुल, कैफेटेरिया, ट्रेकिंग रूट, वोटिंग सुविधा, ठोस कचरा प्रबंधन, पेयजल सुविधा, पर्यटक केन्‍द्र, साहसिक खेल गतिविधियां, हस्‍तशिल्‍प बाजार इत्‍यादि विकसित करेगा।



 आध्यात्मिक सर्किट के तहत उप्र में गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर, बलरामपुर के देविपत्तन मंदिर और डुमरियागंज के वटवासनी मंदिर के विकास के लिए 21.16 करोड़ रुपये मंजूर किये गये हैं। इसके तहत इन स्थानों पर पर्यटक सुविधा केंद्र, शौचालय, आश्रय स्थल, सौंदर्यीकरण, सीसीटीवी, बेंच, कूड़ेदान, दिशासूचक आदि की व्यवस्था की जाएगी।

 


 प्रसाद योजना के तहत मंत्रालय ने उत्तर प्रदेश के मथुरा में गोवर्धन के विकास के लिए 39.74 करोड़ रुपये मंजूर किये हैं जिसके तहत गोवर्धन परिक्रमा मार्ग, कुसुम सरोवर, चंद्र सरोवर और मानसी गंगा का विकास किया जाएगा। सोमनाथ के विकास पर भी 44.59 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे।