युवाओं को पचास प्रतिशत आरक्षण देगी ये दल, जानिए इसके बारे में

Daily news network Posted: 2019-01-11 14:16:51 IST Updated: 2019-01-12 08:30:25 IST
युवाओं को पचास प्रतिशत आरक्षण देगी ये दल, जानिए इसके बारे में

गुवाहाटी

पूर्वांचल जनता पार्टी (सेक्युलर) ने आगामी लोकसभा चुनाव देश के करीब 15 राज्यों में लड़ने की घोषणा की है। गुवाहाटी प्रेस क्लब में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक मुकेश सिंह ने इसकी जानकारी देते हुए कहा पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव असम समेत पूर्वोत्तर के सभी 25 लोकसभा सीटों पर लडे़गी। उन्हें विश्वास है कि उनकी पार्टी देश के राजनीति में तीसरा विकल्प बनकर उभरेगी।


 

सिंह ने कहा कि विगत कई वर्षों से भारतीय राजनीति में कुछ पार्टियां देश की जनता में जाति एवं धर्म के नाम पर नफरत फैलाती रही हैं, जिससे आपसी प्रेम भाईचारा खत्म सा हो गया है। विभिन्न राज्यों में जाति एवं धर्म के नाम पर राजनीति करने वाले कुछ नेताओं की वजह से देश के कई भागों में स्थिति तनावपूर्ण रहती है। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी यह मानती है कि जब तक देश का हर गांव विकसित नहीं होगा, देश का विकास नहीं होगा, क्योंकि भारत गांवों में बसता है। इसलिए हमारा नारा ' गांव का विकास, देश का विकास ' है।

 

 


उन्होंने कहा कि यह अफसोस की बात है कि पूर्वोत्तर के राज्यों के विकास में केंद्र सरकारों की कोई खास रुचि नहीं रही है। यहां के नेताओं को केंद्र में भागीदारी मिलने के बाद भी उन्होंने स्वार्थ सिद्धि में ही समय गंवाया। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी पूर्वोत्तर राज्यों के हर गांव का विकास कर यहांं की प्राकृतिक सुंदरता, वादियों को और सुंदर एवं व्यवस्थित कर युवाओं को उनके उनके ही गृह राज्य में रोजगार देगी।



 पार्टी देश के सर्वांगिण विकास के लिए नेताजी सुभाष चंद्र बोस के आदर्शो का पालन करती है। सिंह ने कहा कि हमारी पार्टी देश में सभी निजी स्कूल एवं निजी हाॅस्पिटल का सरकारी अधिग्रहण कर उनमें कार्य कर रहे सभी शिक्षकों एवं कर्माचारियों की सरकारी नियुक्ति कर समान शिक्षा के लिए 10 कक्षा तक की शिक्षा एवं सभी स्तर के स्वास्थ्य सिर्फ सरकार के अंतर्गत करेगी। उन्होंने कहा कि पार्टी के संविधान के अनुसार हमने युवा वर्ग के लिए चुनाव में भागीदारी हेतु पचास प्रतिशत के आरक्षण का प्रावधान रखा है।


 

 साथ ही देश की आधी आबादी वर्ग को भी हम राजनीति में बराबर का सम्मान देंगे। इस मौके पर पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्वोत्तर के को-आॅर्डिनेटर फारूक हजारिका ने कहा कि असम तो हमारा गृह राज्य है। हम यहां के साथ-साथ देशभर में उन तमाम नेताओं को बेनकाब करेंगे, जो वोट की राजनीति के लिए धर्मनिरपेक्षता के नाम पर राजनीति कर रहे हैं। पार्टी की असम राज्य के अध्यक्ष मामोनी शर्मा ने कहा कि हमें खुशी है कि हम एेसे पार्टी से जुड़े हैं, जो आजादी के महानायक नेताजी सुभाष चंद्र बोस को अपना आदर्श मानती है।

 


 हमें उस बात का बहुत हर्ष है कि असम के इतिहास में ये पहली बार हुअा है कि किसी राजनीति पार्टी ने किसी महिला को अध्यक्ष बनाया है। हम असम के महिलाओं को सम्मान में जी-जान लगा देंगे। हम गांव-गांव में जाकर असम की जनता में नया जोश पैदा करेंगे और उनमें आपसी प्रेम तथा भाईचारे का संदेश देंगे, ताकि असम को विकसित राज्य बना सकें।