पहली बार जा रहे हैं राजस्थान तो इन चीजों के लिए रहें तैयार

Daily news network Posted: 2019-01-04 12:42:15 IST Updated: 2019-01-04 17:06:17 IST
  • भारत में टूरिस्टों की पसंदीदा जगहों में से एक है राजस्थन। जंगल, महल, रेगिस्तान और कला-संस्कृति, यहां सब कुछ देखने के लिए मिलता है।

नई दिल्ली।

भारत में टूरिस्टों की पसंदीदा जगहों में से एक है राजस्थन। जंगल, महल, रेगिस्तान और कला-संस्कृति, यहां सब कुछ देखने के लिए मिलता है। पर्यटकों के दिमाग में राजस्थान की एक पारंपरिक छवि है। राजस्थान के बारे में सुनते ही सबसे पहले दिमाग में ऊंट-रेगिस्तान या फिर शाही महलों की तस्वीर आती है। इन्हीं तस्वीरों के चलते कई लोग यहां कई भ्रांतियों को लेकर घूमने आते हैं। तो अगर आपके साथ भी एेसा है तो हम आपको कुछ एेसी बातें बताते हैं जो राजस्थान जाने से पहले आपको अपने दिमाग से निकाल देना चाहिए।

 


 राजस्थन में हर कोर्इ नहीं है राजपूत

 राजस्थान के बारे में कहानियों और इतिहास में लोगों ने राजपूतों के बारे में खूब पढ़ा-सुना है। शायद इसलिए जब हम राजस्थान जाते हैं तो वहां हर किसी को राजपूत समझने लगते हैं। ऐसा बिल्कुल नहीं है। राजस्थान में अन्य जातियों के लोग भी देश के अन्य हिस्सों की तरह ही रहते हैं।


 राजस्थान का मतलब रेगिस्तान नहीं

 राजस्थान का मतलब रेगिस्तान नहीं है। पश्चिमी राजस्थान में रेगिस्तान है। इसके अलावा राजस्थान के अन्य हिस्से देश के किसी भी अन्य सामान्य शहर की तरह ही हैं।

 


 हर जगह महल देखने की न करें उम्मीद

 अगर आपने राजस्थान को सिर्फ टीवी या फिल्मों में देखा है तो आपके दिमाग में शाही महलों की छवि होगी। आपको बता दें राजस्थान में शाही परिवारों का रुतबा अब भी है लेकिन इनके अलावा आम जनता सामान्य ढंग से अपने मकानों में ही रहती है। इसलिए यहां हर जगह महल देखने की उम्मीद न रखें।


 बोली से न हो असहज

 यहां के लोकल लोगों की बोली या टोन से आहत न हों। पूर्वी राजस्थान के लोग सामान्य रूप से कड़ी और ऊंची आवाज में बात करते हैं। इसका यह मतलब नहीं है कि वे आप पर गुस्सा हो रहे हैं।


 पहने पारंपरिक कपड़े

 राजस्थान के लोग सामान्य तौर पर पारंपरिक परिधान ही पहनते हैं। बाहर से आने पर हो सकता है कि जीन्स या टी-शर्ट पहनना आपके लिए सामान्य हो लेकिन अनचाहे अटेंशन से बचने के लिए आप एथनिक कपड़े पहनकर घूमें तो बेहतर होगा।

 


 न करें पानी की बर्बादी

 अगर आप राजस्थान में हैं तो पानी बर्बाद करना भूल जाएं। यहां पानी की कमी तो है ही साथ ही यहां के लोग पानी के महत्व को बखूबी समझते हैं और कई लोग तो पानी के मटके की पूजा भी करते हैं। ऐसे में आपका पानी बर्बाद करना उन्हें नाराज कर सकता है।