शहीद मनेश्वर बसुमतारी का अंतिम संस्कार आज

Daily news network Posted: 2019-02-16 11:35:49 IST Updated: 2019-02-16 11:37:04 IST
शहीद मनेश्वर बसुमतारी का अंतिम संस्कार आज
  • पुलवामा आत्मघाती हमले में असम के लाल मनेश्वर बसुमतारी ने भी अपनी शहादत दी है। बाक्सा जिले के तामुलपुर के कोलबारी गांव के मूल निवासी मनेश्वर के नहीं रहने की खबर के बाद उनके गांव सहित समूचे असम में शोक की लहर फैल गई है।

गुवाहाटी

पुलवामा आत्मघाती हमले में असम के लाल मनेश्वर बसुमतारी ने भी अपनी शहादत दी है। बाक्सा जिले के तामुलपुर के कोलबारी गांव के मूल निवासी मनेश्वर के नहीं रहने की खबर के बाद उनके गांव सहित समूचे असम में शोक की लहर फैल गई है। मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने शहीद मनेश्वर के परिवार को 20 लाख की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। उनका अंतिम संस्कार शनिवार को पार्थिव देह के आने के बाद पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा। सीआरपीएफ-98 डिवीजन के हेड कांस्टेबल मनेश्वर बसुमतारी विस्फोट की चपेट में आए वाहन में अन्य जवानों के साथ सवार थे। शहीद मनेश्वर अपने पीछे पत्नी और दो बच्चोंं को छोड़ गए हैं।

 



इस बीच भाजपा के राज्य अध्यक्ष रंजीत कुमार दास ने शहीद के घर पहुंचकर शोक संतप्त परिवार को ढांढस बंधाया। सीआरपीएफ के उच्चाधिकारी भी गांव पहुंचे हैं। शहीद के आवास के पास मैदान पर उसके अंतिम संस्कार के लिए सीआरपीएफ जवानों की उपस्थिति में तैयारियां की जा रही हैं। हमारे कुमारीकाटा संवाददाता के अनुसार बहादुर सीआरपीएफ की शहादत से समूचे बाक्सा जिले में शोक की लहर है। शहीद के घर मंत्री भवेश कलिता भी पहुंचे हैं।


 वहीं दूसरी ओर गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए भारत के वीर जवानों को श्रद्धांजलि और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। इस कायराना हमले का जवाब जरूर दिया जाएगा। पूरी तरह से बदला लेंगे। ज्ञात हो कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर आत्मघाती हमला हुआ। 300 किलो विस्फोटक से लदी कार को बस से भिड़ा दिया गया। इस हमले में 40 से ज्यादा जवान शहीद हो गए। यह पिछले पांच सालों में सबसे बड़ा आतंकी हमला है।