आंतकी संगठन हिजबुल में शामिल हुआ बेटा, मां ने कहा- मार दो गोली

Daily news network Posted: 2018-04-11 08:41:10 IST Updated: 2018-06-26 14:31:17 IST
आंतकी संगठन हिजबुल में शामिल हुआ बेटा, मां ने कहा- मार दो गोली
  • असम के गायब हुए युवा कमर उज जमां के आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन में शामिल होने की खबर के बाद उसके परिवार वालों ने भी उससे नाता तोड़ लिया है।

गुवाहाटी

असम के गायब हुए युवा कमर उज जमां के आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन में शामिल होने की खबर के बाद उसके परिवार वालों ने भी उससे नाता तोड़ लिया है। यहां तक की उसकी मां ने कहा है कि अगर वह सचमुच आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन में शामिल हो चुका है तो सरकार जो भी चाहे उसके साथ सुलूक कर सकती है।



 कमर उज जमां असम के मध्यवर्गीय परिवार का बेटा है और चार वर्षों तक यूएस में रहकर आया है। बताया जा रहा है कि वर्ष 2006 में वह कश्मीर घाटी में शिफ्ट हो गया था और उसने परिवार को बताया कि वो घाटी में कपड़े का कारोबार कर रहा है। परिवार का कहना है कि पिछले वर्ष जुलाई से उन्हें उसके बारे में कुछ पता नहीं है और उन्होंने पुलिस में उसके लापता होने की रिपोर्ट भी लिखाई।



मां ने कहा गोली मार दो

 जमन की मां कातुन का कहना है कि जुलाई 2017 से उन्हें उसके बारे में कुछ जानकारी नहीं है। अगर जमन ने आतंकवादी का रास्ता पकड़ा है तो उसे गोली मार दो। हमे ऐसा बेटा नहीं चाहिए।


 बेटे का मृत शरीर को भी नहीं अपनाएगी


मां ने यह भी कहा है कि वह अपने बेटे के मृत शरीर को भी नहीं अपनाएगी। उसने कहा कि वह राष्ट्र के साथ है। उज जमां की मां ने शाहिरा खातून ने कहा कि जुलाई 2017 के बाद से ही उसके बारे में कोई सूचना नहीं है। हमारा उससे कोई संपर्क नहीं हो सका है। उन्होंने कहा कि अगर मेरा बेटा  ऐसी किसी भी संस्था से जुड़ा है तो सरकार उसे गोली मार सकती है। मुझे ऐसे बेटे की जरूरत नहीं है।

 


 असम पुलिस कर रही है जेके पुलिस से बात

 असम पुलिस अधिकारी पल्लब भट्टाचार्य ने कहा कि वे जम्मू कश्मीर पुलिस से लगातार बात कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वो वहां काम करने गया था और लापता हो गया। उन्होंने कहा कि अभी बताना कठिन है कि उसने हिज्ब ज्वाइन किया है या नहीं। हम जांच कर रहे हैं।